अब दिल्‍ली में दंगाइयों पर होगा बड़ा एक्‍शन, सड़कों पर उतरी पैरामिलिट्री फोर्स

लगातार तीन दिन से दिल्‍ली में हो रही हिंसा को रोकने में दिल्‍ली पुलिस नाकाम रही है। ऐसे में गृह मंत्री अमित शाह ने खुद इसकी कमान संभालते हुए राजधानी में शांति बनाने को बड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। अमित शाह ने एक बैठक बुलाई है, जिसमें बीजेपी प्रदेश अध्‍यक्ष मनोज तिवारी, दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और दिल्‍ली के एलजी अनिल बैजल समेत कई बड़े अधिकारियों को बुलाया है। इसके साथ ही दिल्‍ली में पैरामिलिट्री फोर्स की तैनाती भी कर दी गई है।मिली जानकारी के अनुसार, दिल्‍ली में सबसे ज्‍यादा हिंसा उत्तरी-पूर्वी में हो रही है, जिसको देखते हुए गृह मंत्रालय ने 35 पैरामिलिट्री फोर्स को यहां पर लगा दिया है। पैरामिलिट्री फोर्स दिल्‍ली की स्‍पेशल सेल, क्राइम ब्रांच और दिल्‍ली पुलिस के साथ मिलकर काम करेगी। बताया जा रहा है कि अब जो भी लोग हिंसा करने के सड़क पर उतरेंगे उनके कोई नरमी नहीं बरती जाएगी और कड़ा एक्‍शन लेने का निर्देश जारी कर दिया गया है। इससे पहले दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी मीडिया को संबोधित करते हुए कहा था कि दिल्‍ली पुलिस की संख्‍या काफी कम है। इसी के साथ दिल्‍ली पुलिस को ऊपर से एक्‍शन लेने का कोई ऑर्डर नहीं है। दिल्‍ली पुलिस को दंगा करने वालों पर लाठीचार्ज और हवा में फायरिंग करने की अनुमति मिलनी चाहिए।केजरीवाल ने क्‍या कहा…दिल्‍ली में सीएम अरविंद केजरीवाल ने मीडिया के सामने आते हुए हिंसा करने वाले लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। केजरीवाल ने कहा कि आपकी जो भी मांग है, उनको शांति से सुना जाएगा, हिंसा से किसी का भला नहीं होता। उन्‍होंने कहा कि जिन लोगों की दुकान जलाई गई, जिन लोगों की दुकानों और गाड़‍ियों को नुकसान पहुंचाया गया वह सभी आपके भाई-बहन है। केजरीवाल ने यह भी कहा कि हमारे विधायकों से मेरी बात हुई तो उन्‍होंने बताया कि दिल्‍ली पुलिस की संख्‍या काफी कम है। इसी के साथ दिल्‍ली पुलिस को ऊपर से एक्‍शन लेने का कोई ऑर्डर नहीं है। दिल्‍ली पुलिस को दंगा करने वालों पर लाठीचार्ज और हवा में फायरिंग करने की अनुमति मिलनी चाहिए। इसी के साथ दिल्‍ली के सीएम ने कहा कि बॉर्डर इलाके के विधायकों ने मुझे इस बात की जानकारी दी है कि दूसरे प्रदेशों से लोग आकर दिल्‍ली में हिंसा करने में लगे हुए है। ऐसे में हमें दिल्‍ली के बॉर्डर को सील करना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि मेरी 12 बजे गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात है और मैं उनसे बात करके इन मुद्दों को उठाऊंगा ताकि दिल्‍ली में शांति को कायम किया जा सके।अबतक 7 की मौतदिल्ली में लगातार तीसरे दिन भी हिंसा की खबर सामने आ रही हैं। दिल्ली पुलिस के मुताबिक हिंसा में मरने वालों की संख्या सात हो गई है। उत्तर पूर्व दिल्ली में भड़की हिंसा में एक कांस्टेबल और 6 स्थानीय लोगों की जान जा चुकी है। इसे पहले मौजपुर इलाके में आज सुबह फिर से हिंसा भड़क गई है। उपद्रवियों ने दो गाड़ियों को आग लगा दी और पथराव किया। इसके अलावा ब्रह्मपुरी इलाके में भी हिंसा और पथराव की खबरे हैं। नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में धारा 144 लगा दी गई है। साथ ही हिंसा प्रभावित इलाकों में भारी सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई है। हिंसा की वजह से जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी इन्क्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन के एंट्री और एग्जिट गेट को भी बंद करना पड़ा, ट्रेनें वेलकम स्टेशन से ही टर्मिनेट होंगी।