आने वाले मास में ये 4 ग्रह बदलेंगे अपनी चाल, इस राशि वालों को रहना होगा सावधान

these 4 planets will change their movement in november


नवंबर का महीना ज्योतिष  और ग्रहों की हलचल की दृष्टि से बहुत ही खास रहने वाला है। इस महीने जहां देव गुरु बृहस्पति, शुक्र, बुध और सूर्य अपनी राशि बदलेंगे, वहीं शनि अपनी मकर राशि में, राहु वृषभ राशि में और केतु वृश्चिक राशि में गोचर करते हुए सभी 12 राशियों को प्रभावित करते रहेंगे। मंगल ग्रह इस महीने चाल नहीं बदलेंगे। मंगल ग्रह मीन राशि में बने रहेंगे जबकि चंद्रमा तो हर सवा 2 दिन के बाद अपनी चाल बदलते रहते हैं।

नवंबर महीने में 4 ग्रहों की बड़े लेवल पर होने वाली हलचल से बड़े दूरगामी असर होंगे और सभी 12 राशियों के साथ-साथ देश और दुनिया पर भी इसका महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ेगा। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई बदलाव देखने को मिलेंगे जो बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होंगे। नवंबर महीने में 16 नवंबर से ग्रहों की हलचल की शुरुआत होगी और 28 नवंबर तक चलेगी । यानि नवंबर महीने के दूसरे पखवाड़े में 4 बड़े ग्रह अपना रंग दिखाना शुरू करेंगे और अगली राशियों की यात्रा करेंगे। 

ज्योतिष में आत्मा का कारक माने जाने वाले सूर्य 16 नवंबर को शुक्र की तुला राशि से मंगल की वृश्चिक राशि में आ जाएंगे। तुला राशि सूर्य की नीच राशि है और अभी तक वह नीच राशि में चल रहे हैं लेकिन 16 नवंबर को वह इस नीच राशि से बाहर आ जाएंगे और वृश्चिक राशि में चले जाएंगे मंगल के साथ सूर्य की वैसे भी मित्रता है । इसलिए वृश्चिक राशि में आकर सूर्य सभी 12 राशियों को प्रभावित करेंगे।

16 नवंबर को अगर सूर्य अपनी राशि बदलेंगे तो 17 नवंबर को शुक्र भी अपनी नीच कन्या राशि से अपनी ही स्वराशि तुला में आ जाएंगे । शुक्र को ऐश्वर्या, सौंदर्य, ग्लैमर, प्रेम, विलासिता और सुख समृद्धि का प्रतीक माना जाता है । अंग्रेजी में इसे वीनस कहा गया है। यानी सौंदर्य की देवी। तुला राशि में शुक्र मजबूत स्थिति में होते हैं और जीवन में सुख सुविधाओं की बरसात करते हैं।

20 नवंबर को एक बार फिर बड़ी ज्योतिषिय घटना होगी, जब देव गुरु बृहस्पति अपनी धनु राशि से एक बार फिर अपनी नीच मकर राशि में चले जाएंगे जो शनि की राशि है। देव गुरु बृहस्पति को हमारे ज्योतिष में बहुत ही शुभ ग्रह माना गया है। यह हमारे जीवन में उन्नति की राह खोलते हैं। इन्हें ज्ञान, कर्म ,धन, पुत्र और विवाह का कारक माना गया है । इन्हें अध्यात्म का कारक माना गया है और इन्हें दार्शनिक का दर्जा भी दिया गया है।  यह ज्ञान के दाता हैं।  ऐसा माना जाता है कि देव गुरु बृहस्पति हमारे आध्यात्मिक ज्ञान व हमारी बुद्धि को निर्देशित करते हैं और जिस व्यक्ति पर यह प्रसन्न होते हैं, उसे जिंदगी में किसी चीज की कमी नहीं रहती। समाज में खूब यश और मान मिलता है।  और जिन लोगों की कुंडली में बृहस्पति यानी जुपिटर का प्रभाव अधिक होता है, वे व्यक्ति बहुत ही दयालु और धार्मिक प्रवृत्ति के माने जाते हैं।

कर्क राशि में बृहस्पति उच्च के होते हैं और मकर राशि में जाकर नीच के हो जाते हैं । धनु और मीन राशि देव गुरु बृहस्पति की अपनी राशियां हैं। मकर राशि में आकर देव गुरु बृहस्पति सभी राशियों को प्रभावित करने वाले हैं। 

28 नवंबर को ग्रहों में राजकुमार का दर्जा प्राप्त बुध ग्रह भी तुला राशि से वृश्चिक राशि में चले जाएंगे, जहां सूर्य और केतु पहले से विराजमान होंगे। बुध ग्रह को हमारी बुद्धि, विवेक और वाणी का प्रतीक माना जाता है । इन्हें बिजनेस का कारक भी माना जाता है। 

नवंबर महीने में मंगल ग्रह अपनी राशि नहीं बदल रहे हैं। वह मीन राशि में बने रहेंगे जबकि शनि अपनी ही मकर राशि में गोचर करेंगे और राहु वृषभ राशि में तथा केतु वृश्चिक राशि में गोचर करेंगे। 
नवंबर महीने में जो ग्रह गोचर में स्थिति बन रही है और जो बड़े ग्रह राशि परिवर्तन कर रहे हैं,  उससे सभी 12 राशियों पर प्रभाव पड़ने वाला है। आइए जानते हैं ज्योतिष आचार्य गुरमीत बेदी कि किस राशि वालों पर इसका कैसा असर होगा। 

मेष राशि वालों की जहां परेशानियां कम होंगी, वहीं शुभ कार्यों पर भी खर्च होगा और धर्म-कर्म में रुचि बढ़ेगी। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। वैवाहिक सुख में भी बढ़ोतरी होगी।

वृषभ राशि में मिलाजुला प्रभाव डालेंगे।  इन राशि वालों को स्वास्थ्य संबंधी खासकर पेट से संबंधित कोई दिक्कत हो सकती है। सेहत के प्रति लापरवाही बरतना ठीक नहीं होगा।

मिथुन राशि वालों के दांपत्य जीवन में खुशियां आएंगी । प्रमोशन का योग भी बनेगा। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा और लंबे अरसे से कोई काम जो अटका हुआ था , वह बन जाएगा।

कर्क राशि वालों को शत्रुओं के चालों से बच कर रहना होगा। मानसिक तनाव हो सकता है लेकिन इस राशि के विद्यार्थियों का विदेश जाकर पढ़ने का सपना अब मूर्त रूप ले सकता है।

सिंह राशि वालों के लिए समय अच्छा रहने वाला है। विरोधी नतमस्तक होंगे। प्रेम संबंध प्रगाढ़ होंगे।  रुका हुआ धन भी वापस मिलने के चांस है।

कन्या राशि वालों की प्रॉपर्टी में इजाफा होगा। पारिवारिक जीवन में मधुरता आएगी। जो लोग रिलेशन में हैं,  वह शादी के बंधन में बंध सकते हैं । इनकम का कोई नया सोर्स डिवेलप हो सकता है।

तुला राशि वालों का आत्मविश्वास बढ़ेगा। तरक्की के रास्ते खुलते चले जाएंगे।  भाई बहनों का सहयोग मिलेगा और छोटे भाई बहनों को कोई बड़ी कामयाबी भी मिल सकती है।

वृश्चिक राशि वालों की तो जैसे लॉटरी खुलने वाली है। कई स्रोतों से इनकम हासिल होगी और लंबे समय से अटकी हुई समस्याओं का भी हल निकालेंगे।

धनु राशि वालों का समाज में मान सम्मान बढ़ेगा। आर्थिक जीवन में तरक्की मिलेगी और संतान संबंधी चिंता भी दूर होगी।

मकर राशि वालों के खर्चे बढ़ेंगे और इनवेस्टमेंट के लिए समय अनुकूल नहीं होगा । व्यापार में अगर कोई साझेदार है तो उसके साथ थोड़ा विवाद हो सकता है , जिसे टालना बेहतर रहेगा। घर में बुजुर्गों के स्वास्थ्य के प्रति सजग रहना होगा।

कुंभ राशि वालों को वाहन बहुत सावधानी से चलाना होगा। बाकी आपके रुके हुए काम बनेंगे और आर्थिक पक्ष भी मज़बूत होगा। विद्यार्थियों के लिए भी समय बढ़िया रहेगा।

मीन राशि वाले नया वाहन या मकान खरीद सकते हैं।  पद प्रतिष्ठा दोनों बढ़ेगी। लेकिन स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही बरतना ठीक नहीं रहेगा।