इधर दिल्ली में चुनाव प्रचार थमा, उधर शाहीन बाग में मची बड़ी हलचल, हुआ…

दिल्ली विधनासभा चुनाव का प्रचार गुरुवार को समाप्त हो गया। इसके साथ ही अब बड़े-बड़े नेताओं के बयानों पर भी लगाम लग गई। सभी दलों ने अपने नेताओं को जनता को रिझाने के लिए उतारा था। कांग्रेस की ओर से राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने वोट मांगे।
शाहीन बाग में चल रहा है विरोध दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में मोदी सरकार के नागरिकता संशोधन कानून का लगातार विरोध चल रहा है। कड़ाके की ठंड के बाद भी यहां महिलाएं विरोध कर रही हैं और हिलने का नाम नहीं ले रही है। एक महीने से ज्यादा समय से ये धरना जारी है। वहीं धरने से सरकार पर दबाव बढ़ता जा रहा है।
मामला यहाँ तक बिगड़ गया था कि वहाँ गोलीबारी भी हो गई थी l शाहीन बाग में मची हलचल जैसे जैसे प्रचार का समय खत्म हो रहा था, वैसे ही शाहीन बाग को लेकर कई तरह की खबरें आने लगीं। दोपहर में ऐसी खबर आई कि दिल्ली पुलिस बवाना, नांगलोई और कंझावला इलाके में ‘खुली जेल’ बनाने जा रही है। इसके लिए दिल्ली सरकार से इजाजत मांगी गई है। दूसरी ओर, चुनाव प्रचार की आखिरी रात को शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे लोगों की संख्या में एकाएक कमी आ गई।