इन कर्मचारियों को रिटायरमेंट दे सकती है सरकार

इन कर्मचारियों को रिटायरमेंट दे सकती है सरकार
बाज़ार इन कर्मचारियों को रिटायरमेंट दे सकती है सरकार News Desk Aug 11, 2020

भोपाल: कोरोना काल में वित्तीय संकट से जूझ रही प्रदेश सरकार ने कर्मचारियों से जुड़े फार्मूले में बड़े परिवर्तन करते हुए नियम व कड़े कर दिए हैं. सामान्य प्रशासन विभाग ने इससे जुड़ा एक आदेश जारी किया है. इस आदेश के अनुसार, कर्मचारियों को कुछ विशेष स्थिति में रिटायरमेंट से पहले ही सेवानिवृत्ति किया जा सकता है. जो कर्मचारी 20 वर्ष की जॉब या 50 वर्ष आयु पार कर चुके हैं उनकी परफॉर्मेंस देखी जाएगी. जिन कर्मचारियों की परफॉरमेंस अच्छा है, लेकिन सीआर नंबर 50 प्रतिशत से कम है व वे मेडिकल अनफिट हैं, तो उन्हें सेवानिवृत्ति किया जा सकता है.

ये कर्मचारी दायरे में
ऐसे कर्मचारी जो बार-बार बीमार होते हैं. उनके पास 20 वर्ष की जॉब करने के बाद खुद रिटायरमेंट का विकल्प होगा. नहीं तो 25 वर्ष की जॉब पूरी होते ही सरकार मेडिकल अनफिट कर्मचारियों को स्वत: सेवनिवृत कर देगी. हालांकि सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री इंदर सिंह परमार ने बोला है कि नियम जो भी हो किसी भी कर्मचारी को अनावश्यक रुप से परेशान नहीं किया जाएगा.

बता दें कि प्रदेश में ऐसे 20:50 के फॉर्मूले में फिट बैठने वाले करीब 2 लाख कर्मचारी हैं. ए श्रेणी के लिए 5 नंबर, बी श्रेणी के लिए 4 नंबर, सी श्रेणी के लिए 3 नंबर, डी श्रेणी के लिए 2 नंबर का प्रावधान किया गया है. हर श्रेणी के अलग अंकों में यदि कर्मचारी के हर वर्ष ए श्रेणी मिलती है तो 20 वर्ष की सेवा में 100 नंबर हो जाएंगे यानी वह आगे की जॉब के लिए पूरी तरह सुरक्षित. इसी तरह बी श्रेणी के 80, सी श्रेणी के 60 व डी श्रेणी के लिए 40 नंबर होते हैं.

ऐसे तय हो रही परफॉर्मेंस की सीआर
सीआर का नंबर गणित भी बदला गया है. कर्मचारी जब जॉब में आया व उसके बाद के 20 वर्षों में उसके सीआर के अंक जोड़कर परफॉर्मेंस तय होगी. यदि 50 नंबर के कम आए तो समझ लो जॉब खतरे में. अभी तक 3 वर्ष की सीआर को ही जोड़ा जाता था.