इस मंदिर में दबे खजाने के आगे अमेरिका भी है भिखारी !

त्तर प्रदेश के कानपुर में एक शिव मंदिर (shiv Temple) स्थित है जिसके बारे माने जाता है कि यहां अमेरिका की संपत्ति से भी ज्यादा खजाना दबा हुआ है। लोगों का मानना है कि विश्व में सबसे ज्यादा संपत्ति वाले देश अमेरिका से भी ज्यादा खजाना इस शिव मंदिर में है।दरअसल कानपुर के पास घाटमपुर में केरली गांव में एक पुराना शिव मंदिर है। इसके बारे में ऐसी मान्यता है कि इस शिव मंदिर के नीचे सोने-चांदी के जवाहरात और बेशकीमती खजाना दबा हुआ है। यहां के लोगों का कहना है कि अमेरिका के पास जितनी कुल संपत्ति है, उनका तान गुना सोना इस शिव मंदिर के नीचे दबा है।ये बात हर किसी को हैरान करती है कि यहां इतनी संपत्ति है। यहां के लोगों ने संपत्ति के चक्कर में कई बार रात के समय मंदिर के चबूतरों को खोद देते हैं। एक बार यहां खजाने के चक्कर में चोरों ने खजाने तक पहुंचने वाले रास्ते को ढुंढने के लिए मंदिर में स्थापित शिवलिंग का उपरी हिस्सा तक तोड़ दिया था और हिस्से को अपने साथ ले गए।लोगों ने खजाना पाने के चक्कर में मंदिर में शिवलिग को ही नहीं तोड़ा बल्कि उन्होंने इस मंदिर के एक चबूतरे को खोद डाला था। इस बात के कई सबूत मिले हैं कि लोग बार-बार यहां खजाना चुराने आते है और चले जाने हैं। लेकिन इसमें इस बात की जानकारी नहीं मिली की कौन कितना खजाना ले जाता है या नहीं। लेकिन इस मंदिर के बारे में जो बाते हैं वे आज भी सबको हैरान करता है।