एक ही राशि में आ चुके हैं 4 ग्रह, संभलकर रहें इन चार राशि वाले लोग

एक ही राशि में आ चुके हैं 4 ग्रह, संभलकर रहें इन चार राशि वाले लोग

बदलते समय के साथ कई ग्रहों के चाल बदल चुके हैं तो कई ग्रहों का राशि परिवर्तन हो चुका है। ग्रहों का राशि परिवर्तन कई लोगों की सेहत पर भी उतार चढ़ाव आ सकते हैं। ऐसे में ये जानना जरूरी है कि ऐसी स्थिति का असर किन-किन राशियों के जातक पर रहेगा।


दरअसल, 21 नवंबर ( गुरुवार ) को शुक्र राशि बदलकर धनु राशि में आ चुका है। इस राशि में पहले से ही शनि, केतु और बृहस्पति है। ऐसे में धनु राशि में चार ग्रह होने के कारण चतुर्ग्रही योग बन रहा है। इस योग का असर सभी राशियों पर रहेगा। आइये जानते हैं इसका क्या असर होगा।


ज्योतिष शास्त्रियों के अनुसार, धनु राशि में स्थित शनि, शुक्र और केतु आपस में मित्र बने हुए हैं जबकि यहां पर स्थि बृहस्पति शत्रु ग्रह है। यही नहीं, 16 दिसंबर के बाद सूर्य भी इन ग्रहों के साथ रहेगा। वहीं 25 दिसंबर को शुक्र धनु राशि से बाहर निकल जाएगा लेकिन बुध राशि परिवर्तन कर धनु राशि में आ जाएगा। ऐसे में इस राशि में एक बार फिर से 5 ग्रह आ जाएंगे।


ग्रहों की इस तरह की उथल-पुथल होने के कारण कई लोगों के जीवन में भी बड़े बदलाव आ जाएंगे। ज्योतिष शास्त्रियों के अनुसार, ग्रहों की ये स्थिति 14 जनवरी 2020 तक रहेगी। ऐसी स्थिति में ज्यादातर लोगों के लिए समय ठीक रहेगा लेकिन कुछ लोगों के लिए चिंतनिय भी रहेगा।


ज्योतिष शास्त्रियों के अनुसार, ग्रहों में जो बदलाव होंगे, उसका सकारात्मक असर ज्यादा देखने को मिलेगा। ऐसी स्थिति में कई लोगों को नई जिम्मेदारियां मिल सकती है। कई जातकों के रुके हुए काम शुरू हो जाएंगे। इसके अलावे शत्रु ग्रहों के गठबंधन बनने के कारण कई जातकों के लिए विवाद और तनाव वाला समय हो सकता है। इसके अलावा इनकी उलझनें भी बढ़ सकती है।

राशियों पर क्या पड़ेगा असर

ग्रहों के बदलते चाल का असर कई राशियों पर पड़ेगा। जहां तक शुभता की बात की जाए तो मेष, कर्क, वृश्चिक और कुंभ राशि के जातकों के लिए ग्रहों का चाल शुभ साबित होगा तो वहीं सिंह, कन्या, तुला और मीन राशि के जातकों के लिए सामान्य रहेगा जबकि वृषभ, मिथुन, धनु और मकर राशि के जातकों के लिए अशुभ साबित होगा। ऐसे में इन राशियों के जातकों को सावधान रहने की जरूरत है।