किया मोटर्स भारत की पांचवी सबसे बड़ी कार कंपनी, सिर्फ कुछ महीनों में पाया यह मुकाम

किया मोटर्स ने अगस्त में भारत में अपनी पहली कार सेल्टोस उतारी थी। किया सेल्टोस ने बाजार में आते ही छा गयी है तथा इसका बदौलत किया मोटर्स अक्टूबर में देश की पांचवी सबसे बड़ी कार कंपनी बन गयी है।

किया मोटर्स ने अक्टूबर 2019 में 12,850 यूनिट कारों की बिक्री की है तथा इसके साथ ही कंपनी भारत की पांच बड़ी कार कंपनियों की लिस्ट में शामिल हो गयी है। कंपनी ने होंडा, टोयोटा जैसे पुराने खिलाड़ियों को पछाड़ दिया है।

किया मोटर्स वर्तमान में भारतीय बाजार में सिर्फ सेल्टोस एसयूवी की बिक्री कर रही है, लेकिन इस एसयूवी की लोकप्रियता की वजह से कंपनीने सिर्फ दो महीने में यह मुकाम हासिल कर लिया है।

बतातें चले कि किया मोटर्स की यह बिक्री आगे भी जारी रहने वाली है क्योकि कंपनी को अभी तक 60,000 से अधिक बुकिंग प्राप्त हो चुके है। कंपनी ने अभी तक सिर्फ 26,640 यूनिट वाहनों की ही डिलीवरी की है।

किया सेल्टोस की बुकिंग अभी भी जारी है तथा कंपनी को अभी भी अच्छी बुकिंग प्राप्त हो रही है। हालांकि यह देखना दिलचस्प होगा कि आने वाले महीनों में सेल्टोस की यह दीवानगी बनी रहती या नहीं बनी रहती है।

कंपनी ने पिछले महीने 6000 के आकड़े को छुआ था लेकिन त्योहारी महीना होने के कारण अक्टूबर में 12,000 के आकड़े को भी पार कर गयी है। इसमें सबसे बड़ी भागीदारी धनतेरस के दिन की डिलीवरी की है।

किया सेल्टोस इस बिक्री के साथ अपने सेगमेंट में भी सबसे अधिक बिकने वाली कार बन गयी है। किया मोटर्स ने अधिक बुकिंग के चलते सेल्टोस का उत्पादन भी बढ़ा दिया है ताकि जल्द से जल्द डिलीवरी दी जा सके।

कंपनी प्रतिमाह किया सेल्टोस की 9000 यूनिट उत्पादन की योजना लेकर आयी थी। लेकिन अधिक मांग व जबरदस्त बुकिंग पाकर कंपनी ने उत्पादन क्षमता को बढ़ाने का फैसला किया है।

किया मोटर्स अपनी पहली ही कार की सफलता से प्रभावित होकर जल्द ही दो नई मॉडल भारतीय बाजार में लाने वाली है। दोनों ही मॉडल को देश में टेस्टिंग करते देखा जा चुका है।

किया मोटर्स वर्तमान में सफलता के रथ पर सवार है, अगर कंपनी को इसे बनाये रखना है तो डीलरशिप, सर्विस तथा ग्राहकों की सुविधा पर भी ध्यान देना होगा, नहीं तो यह जल्दी ही खत्म हो सकती है।