‘किरकेट’ में बिहार क्रिकेट की दयनीय दशा और उसके पीछे की राजनीति का चित्रण

5 सितंबर, 2019: जल्द रिलीज़ होने जा रही फ़िल्म ‘किरकेट बिहार के अपमान से सम्मान तक’ का ट्रेलर आज मुम्बई के अंधेरी स्थित पीवीआर ईसीएक्स में लॉन्च किया गया | इस ख़ास मौके पर फ़िल्म में प्रमुख भूमिका निभा रहे कीर्ति आज़ाद और अतुल वासन मौजूद थे |फ़िल्म‌ से निर्माता और अभिनेता  आर. के. जालान, विशाल तिवारी, सोनू झा, सोनम छाबड़ा, देव सिंह, अजय उपाध्याय और फ़िल्म के सह-निर्माता युसूफ़ शेख ने भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया |

कीर्ति आज़ाद एक पूर्व भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी हैं, जो 1983 में विश्व कप जीतने वाली भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य भी रह चुके हैं | बाद में उन्होंने‌ राजनीति से जुड़ने का फ़ैसला लिया और बिहार के दरभंगा से बीजेपी के टिकट से चुनाव लड़ा और सांसद के तौर पर निर्वाचित हुए| उल्लेखनीय है कि यहां से वो तीन बार सांसद चुने गये. लेकिन दिल्ली की क्रिकेट संस्था दिल्ली ऐंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष रहे तत्कालीन केंद्रीय वित मंत्री अरुण जेटली पर क्रिकेट एशोसिएशन  में गड़बड़ी और भ्रष्टाचार के आरोप लगाने के बाद कीर्ति आज़ाद को 23 दिसंबर, 2015 को बीजेपी से बर्ख़ास्त कर दिया गया था |

‘किरकेट’ में बिहार क्रिकेट की दयनीय दशा और वहां के क्रिकेटरों को राष्ट्रीय टीम में जगह नहीं दिये जाने संबंधी गंभीर विषय को चित्रित किया गया है| इस फ़िल्म में जहां वास्तविक घटनाओं को दर्शाया गया है, तो वहीं फ़िल्म में काल्पनिकता का अंश भी देखने को मिलेगा. फ़िल्म में नायक के रूप में नज़र आने वाले कीर्ति आज़ाद के संघर्ष और उपलब्धियों को बख़ूबी दिखाया गया है|

ऐसा पहली बार हो रहा है कि सत्य घटनाओं पर आधारित इस फ़िल्म में बिहार में क्रिकेट की ख़स्ता हालत और उसके पीछे की राजनीति को दर्शाया गया है| ग़ौरतलब है कि कीर्ति आज़ाद ख़ुद बिहार क्रिकेट टीम के कोच रहे चुके हैं और फ़िल्म‌ में भी वो अपनी असल ज़िंदगी की भूमिका में नज़र आएंगे |

इस फ़िल्म का निर्माण येन मूवीज़ ने ए स्क्वेयर प्रोडक्शन्स, धर्मराज फ़िल्म्स और जेकेएम फ़िल्म्स के साथ मिलकर किया है| फ़िल्म के निर्माताओं में आर. के. जालान,सोनू झा, विशाल तिवारी का नाम शुमार है, तो वहीं फ़िल्म के सह-निर्माता हैं यूसुफ़ शेख़ | ‘किरकेट’ का निर्देशन योगेंद्र सिंह ने किया और फ़िल्म के लेखक हैं विशाल विजय कुमार|

फ़िल्म में कई नये चेहरों को मौका दिया गया है, जिनमें कीर्ति आज़ाद, विशाल तिवारी, सोनू झा, सोनम छाबड़ा, देव सिंह, अजय उपाध्याय के साथ-साथ क्रिकेटर मनिंदर सिंह, मनोज प्रभाकर, अतुल वासन आदि नाम प्रमुख हैं|

ट्रेलर लॉन्च के मौके पर कीर्ति आज़ाद ने कहा, “बिहार और झारखण्ड अलग होने के बाद बिहार के खिलाड़ियों का उनके राज्य और जाति के कारण बहुत अपमान हुआ | किरकेट फ़िल्म उस समय की असलियत और स्टेडियम के बाहर के क्रिकेट और राजनीतिक दांवपेंच की सच्चाई को दिखाएगी |”

‘किरकेट’ इस साल अक्टूबर में रिलीज़ होगी|