कुछ लोग कहते हैं हमें प्यार हो गया, सच्चा प्यार कैसा होता है…….

आज का लेख हमारा प्यार पर आधारित है कुछ लोगों के मुंह से आपने सुना होगा कि हमें सच्चा प्यार हो गया। और हम उसके लिए कुछ भी कर सकता है, लेकिन मैं आज कुछ प्यार के बारे में लिखने जा रहा हूं शायद मेरी बात गलत भी हो सकती है।

लोगों से हमने अच्छा सुना है कि हमें बहुत सच्चा प्यार हो गया। और मैं अब उसके बिना जी नहीं पाऊंगा। यह सच भी होता है कि जब किसी को प्यार होता है तो वह एक दूसरे से दूर नहीं रह पाते हैं। और एक दूसरे को बहुत अच्छी तरह से समय देते हैं जो वर्तमान समय के लिए बहुत कठिन काम है। क्योंकि आज के समय में प्यार से अधिक काम जरूरी है मगर जो सच्चा प्यार करते हैं वह एक दूसरे को समय देना सही समझते हैं । और एक दूसरे की बात बिना कहे समझ जाते हैं और जो साथी करता है वही करते हैं चाहे वह गलत है या सही। वह बिना साथी से पूछे एक कदम भी आगे नहीं बढ़ाते हैं नहीं चलना पसंद करते हैं। इसीलिए कहा जाता है कि प्यार अंधा होता है। जिसमें किसी को भी पागल बना सकता है।

सही मायने में प्यार ऐसा ही होना चाहिए जिसमें साथी एक दूसरे की बातों को समझें और एक दूसरे की बातों को सुनकर नकारना ना चाहे। चाहे वह बात गलत ही क्यों ना हो। मेरा मानना है की अगर प्यार करने वाला साथी खुश तो साथी भी खुश रहेगा।

लेकिन आजकल अक्सर यह देखने को मिलता है लोग कहते हैं कि हम बहुत सच्चा प्यार करते हैं मगर एक दूसरे को ना टाइम दे पाते हैं। और नहीं एक दूसरे की फीलिंग को समझ पाते हैं। साथ ही अपने साथी के बात को मानने से भी इनकार करते हैं। उनको लगता है कि इसमें मेरा भला नहीं है।

कुछ जगहों पर तो केवल स्वार्थ के लिए प्यार किया जाता है उससे मेरा जरूरत पूरा हो जाएगा। आजकल लोग प्यार को एक खिलवाड़ बना दिए हैं।

आजकल तो तो लोग प्यार को व्यवसाय भी बना दिए हैं।

वर्तमान समय में प्यार की परिभाषा बहुत बदल गई है लोग कहते हैं प्यार करते हैं मगर सच्चे प्यार का मतलब ही नहीं जानते हैं।