केमिस्‍ट्री पढ़ाने के लिए छात्रा को होटल में रुकवाया, फिर टीचर ने जो किया वो सबसे बुरा

कुछ खबरें ऐसी होती हैं, जिन पर भरोसा करना नामुमकिन सरीखा होता है. ज्यादातर ऐसी खबरें रिश्तों को शर्मसार करने वाली होती हैं, जिनके बारे में जानकर सबका सिर शर्म से झुक जाता है. हमारे समाज में शिक्षक को भगवान से भी बड़ा दर्जा दिया जाता है, मगर जब बच्‍चे उनके आंचल में ही महफूज न हों तो कोई क्‍या करे. एक ऐसा ही मामला हिसार में सामने आया. मगर इस मामले में जो अब हुआ है वो उन लोगों के लिए सबक है जो अपनी जिम्‍मेदारी भूलकर बच्‍चों के साथ गलत काम कर बैठते हैं.

गुरुग्राम से हिसार पढऩे आई एक युवती से उसके टीचर द्वारा छेड़छाड़ करने के मामले में एडीजे डा. पंकज की अदालत ने आरोपित केमिस्ट्री टीचर सुमोध कुमार को पांच साल की सजा सुनाई है. उस पर चार हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है.

अदालत में चले अभियोग के अनुसार युवती ने 13 जुलाई को शिकायत दे कहा कि वह एक पीजी में अपने साथियों के साथ रहती थी. वह गुरुग्राम से यहां पर तैयारी करने के लिए आई थी. तीन से 8 जुलाई के बीच में काफी बच्चों को टीचर ने केमिस्ट्री विषय को समझाने के लिए होटल में रुकवाया था.

एक रात को सुमोध उनके कमरे में आया और उससे छेड़छाड़ करने लगा. वह अगले दिन की होटल छोड़ कर पीजी में गई और परिवार को पूरी बात बताई थी. उसके बाद परिवार के साथ छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया था. अदालत ने अब उसे पांच साल की सजा सुनाई है.