खाली मंच से 2 घंटे अकेले भाषण देते रहे नेताजी, गवाह बनीं खाली पड़ीं कुर्सियां

खाली सभा में नेताजी का भाषणमध्य प्रदेश के दमोह में एक ऐसी आम सभा (public meeting) हुई, जिसकी गवाह खाली पड़ीं कुर्सियां (chairs) बनीं. कमाल की बात ये है कि सभा में एक भी शख्स नहीं पहुंचा, फिर यह तय समय से ज्यादा देर तक चली. नेता जी (leader) दो घंटे से ज्यादा देर तक अकेले ही मंच से भाषण देते रहे. दमोह से पूर्व लोकसभा उम्मीदवार कमलेश असाटी (kamlesh asati) ने किसानों (farmers) के समर्थन और क्षेत्रीय मुद्दों को लेकर यह सभा बुलाई थी. किसान और जनता पहुंची नहीं लेकिन नेताजी अपने तय एजेंडे पर चलते रहे, वो अकेले ही भाषण देकर लौट गए.मंच खाली, कुर्सियां भी खालीं
कमलेश असाटी ने जिला मुख्यालय के सरकारी बस स्टैंड पर आम सभा बुलायी थी. इसके लिए उन्होंने बाकायदा एसडीएम और कोतवाली से दो घंटे तक की परमिशन भी ली थी. इंतजाम पूरे थे लेकिन सभा में कोई भी नहीं पहुंचा. मंच से लेकर नीचे लगीं कुर्सियों तक सब खाली पड़ा रहा.
2 घंटे अकेले दिया भाषण
लेकिन सभा का आयोजन करने वाले कमलेश असाटी इससे ज़रा भी निराश नहीं हुए. उन्होंने अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक मंच से भाषण देना शुरू कर दिया और पूरे 2 घंटे तक बोलते रहे. आस-पास से गुजरने वाले लोग भी इस सभा को देखकर चकित थे.
शहर भर में लगाए स्पीकर
इस कार्यक्रम के लिए हर एक इंतजाम व्यवस्थित तरीके से किए गए थे. मंच की साज-सज्जा भी की गई थी और अच्छे किस्म का साउंड सिस्टम भी लगाया गया था. साथ ही शहर की मुख्य जगहों पर स्पीकर लगाए गए थे ताकि इन हिस्सों में भी सभा की गूंज सुनाई दे, लेकिन फिर भी कोई नहीं पहुंचा.हालांकि नेताजी की आवाज़ दूर-दूर तक पहुंच गई.