गणेश चतुर्थी पर चीन को हुआ पांच सौ करोड़ का नुकसानः कैट

23 अगस्त। ऑल इंडिया ट्रैड़र्स (कैट) के चीनी वस्तुओं के बहिष्कार का असर गणेश चतुर्थी पर बिकने वाली मूर्तियों पर भी पड़़ा है। इस बार चीन निÌमत गणेश की मूर्तियों का इस्तेमाल पूजा में नहीं हुआ है। इससे जहां एक ओर चीन का गणेश चतुर्थी पर होने वाला ५०० करोड़ रु पए का नुकसान हुआ है वहीं दूसरी ओर तुलसी और अन्य बीज युक्त गोबर व मिट्टी के गणेश जी की मूÌत बनाने में बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार भी मिला है। उन्होंने बताया पहले बड़ी मूर्तियों की मांग होती थी‚ लेकिन इस बार ६ इंच‚ ९ इंच और १२ इंच के गणेश जी की मूर्ति की मांग ज़्यादा रही क्योंकि इन साइज़ की गणेश प्रतिमाएं घर में आसानी से विसÌजत की जा सकती हैं ।  कैट के अध्यक्ष वीसी भरतिया एवं महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने बताया की गणेश जी की इन प्रतिमाओं को कैट से सम्बंधित देश भर में फैले व्यापारी संगठन कलाकृतियां बनाने वाले स्थानीय लोग जो निचली या स्लम बस्तियों में रहते हैं उनके द्वारा भी बनवाई और अपने व्यापारिक संगठनों के मा¢र्त लोगों तक पहुंचाया ! इस प्रकार से कैट ने उन लोगों को रोजगार देने का काम किया जिनके पास वर्तमान में रोजगार की कमी है या कोरोना के कारण जिनका रोजगार छिन गया है ! ऐसे लोगों की सहायता कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत में कैट के नेतृत्व में देश भर के व्यापारियों ने अपना बड़ा समर्थन दिया है। उन लोगों को रोजगार मिला जिनके पास रोजगार की कमी थी