गुजरात के जड़ेजा परिवार ने 90 लाख रुपये के नोट अपने बेटे की बरात में उड़ाए, सड़क पर बिछी नोटों की चादर

इन सोशल मीडिया पर एक शादी का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। यह मामला गुजरात के जामनगर के चेला गांव का है। पिछले दिनों इस गांव में जडेजा परिवार में शादी हुई जिसके चर्चे हर जगह अभी तक हो रहे हैं। दरअसल परिवार ने अपने बेटे की शादी में 90 लाख के नोट बारात में उड़ाए हैं। बरात में बैंड की धुन पर बराती नाच रहे थे तो जबकि बाकी लोग इस दौरान बारात में 100, 200, 500 और 2000 हजार के नोट उड़ा रहे थे।

बारातियों ने बारात में इतने नोट उड़ाए कि सड़क पर नोटों की परत ही बन गई। स्‍थानीय लोगों ने जब यह वाकया देखा तो उन्हें लगा कि नोटों की बारिश हो गई। सोशल मीडिया पर इस शादी का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि बारातियों ने नोटों की गड्डियां कैसे बारात में उड़ाईं हैं। 

शादी में 90 लाख की नकदी उड़ाई दूल्हे वालों ने 

खबरों के मुताबिक, गांव कुनड के रहने वाले जडेजा परिवार के बेटे ऋषिराज जडेजा की शादी हुई थी। अपने बेटे के शादी के सारे ही फक्‍शन में उन्होंने खूब पैसा लुटाया है। उन्होंने शादी में नकदी ही 1 करोड़ की लगाई है। बता दें कि एक करोड़ की कार ऋषिराज के बड़े भाई यशपाल ने तोहफे में दी है। इतना ही नहीं हेलीकॉप्टर में ऋषिराज अपनी दुल्हन को विदाकरके आए।

इस महंगी शादी के चर्चे दूर-दूर तक हो रहे हैं

इस वीडीयो में दिखाई दे रहा है कि नोटों की गड्डी खोलकर शादी के कार्यक्रम में नोट उड़ा रहे हैं। जो लोग बारात में नाच रहे थे वही उन नोटों को उठा रहे थे। बेटी के गांव वालों ने भी जश्न मनाया। जडेजा परिवार की इस महंगी शादी के चर्चे हर जगह हो रहे हैं। इस शादी को लेकर सोशल मीडिया पर यूजर्स ने कई सारे सवाल भी किए हैं।

 आलोचना हुई नोट उड़ाने की सोशल मीडिया पर 

इस शादी के वीडियो पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। लोगों ने कहा कि देश में मंदी हो रही है और देश में ऐसे भी लोग है जो अपने जरूरत की चीजें पूरी नहीं कर पा रहे हैं और यह ऐसे पैसे बहा रहे हैं। लोगों ने कहा कि खाने के पैसे कुछ लोगों के पास नहीं हैं और एक ये रईस लोग हैं जो अपनी शादी में 1 करोड़ रुपए के नोट उड़ा रहे हैं।

यह सफाई दी दूल्हे वालों ने

दूल्हे के परिवार वालों से जब नोट शादी में उड़ाने की बात पूछी तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि जो भी पैसे उड़ाए गए हैं वह पांच गांव की गोशालाओं को दान दी जाएंगे। अक्सर आपने देखा है हाथी-घोड़े या कार पर दूल्हा दुल्हन को लेने जाता है लेकिन आप जानते हैं यहां पर दुल्हन की विदाई हेलाकॉप्टर में हुई।