घमंड और पेट जब ये दोनों बढ़तें है तब इन्सान चाह कर भी किसी को गले नहीं लगा सकता

बिना संघर्ष के कोई महान नहीं बनता,पत्थर पर जबतक चोट ना पड़े,तबतक पत्थर भी भगवान् नहीं बनता।जिंदगी में आप कितनी बार हारे,ये कोई मायने नहीं रखता,क्यूंकि आप जीतने के लिए पैदा हुए हैं!!मैदान में हारा हुआ इंसान फिर से जीत सकता है, लेकिनमन से हारा हुआ इंसान कभी नहीं जीत सकता।मन के हारे हार है और मन के जीते जीत।जिंदगी में कठिनाइयां आयें तो उदास ना होना।क्यूंकि कठिन रोल अच्छे एक्टर को ही दिए जाते हैं!!
यदि अंधकार से लड़ने का संकल्प कोई कर लेता है!तो एक अकेला जुगनू भी सब अंधकार हर लेता है!!बारिश की बूँदें भले ही छोटी हों..लेकिन उनका लगातार बरसना।बड़ी नदियों का बहाव बन जाता है…वैसे ही हमारे छोटे छोटे प्रयास भीजिंदगी में बड़ा परिवर्तन ला सकते हैं…जिंदगी में तपिश कितनी भी हो कभी हताश मत होना,क्योंकि धूप कितनी भी तेज हो समंदर कभी सूखा नहीं करते।इंसान की छवि अपनी छवि का ध्यान रखें,क्यूंकि इसकी आयु आपकी आयु से कहीं ज्यादा होती है।