छठ की छुट्टी के लिए बिहार पुलिस खा रही अजीब कसमे, शपथ पत्र हो रहा वायरल

 बिहार में लोक आस्था के महापर्व छठ को लेकर तैयारियां जोर शोर से चल रही है, वहीं इस त्यौहार में शामिल होने के लिए बिहार से बाहर रहने वाले लोग अपने घर पहुँच रहे है. परन्तु कई ऐसे सरकारी विभाग भी हैं जहां इस बड़े त्योहार में भी कर्मियों को छुट्टी नहीं मिलती. ऐसा ही एक विभाग है पुलिस विभाग.ऐसे में छठ जैसे महापर्व में शामिल होने के लिए पुलिसकर्मियों को छुट्टी लेने के लिए काफी पापड़ बेलना पड़ रहा है. समस्तीपुर में छुट्टी लेने के लिए पुलिस कर्मी  अजब गजब कसम खा रहे हैं. पुलिस कर्मियों का ये शपथपत्र सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है.

मिली जानकारी के अनुसार समस्तीपुर में एक जवान छठ की छुट्टी के लिए दिए गए आवेदन के बावजूद छुट्टी नहीं दी जा रही, बावजूद इसके उसे शपथ पत्र दिया गया है जिसमें लिखा गया है कि छठी मैया की कसम खाकर कहता हूं कि मैं पिछले 40 वर्षों से छठ कर रहा हूं, मैं झूठ बोलकर अवकाश नहीं ले रहा हूं, अगर ये झूठ होगा तो छठी मैया हमारे परिवार को घोर विपत्ति दें.

ये शपथ पत्र वायरल हो रहा है. समस्तीपुर के पुलिस चौकी में पदस्थापित जवान नारायण सिंह को यह शपथ पत्र दिया गया है जो बिहार पुलिस के जवान हैं.उनका कहना है कि मैं छठ के लिए झूठ क्यों बोलूंगा, मैं खुद 40 साल से छठ कर रहा हूं और छुट्टी के लिए कभी ऐसा  शपथ पत्र मुझे नहीं दिया गया था. मैंने शपथ पत्र पर हस्ताक्षर कर दिया है, क्योंकि मैं झूठ नहीं बोल रहा हूं. इतना ही नहीं कुछ पुलिस कर्मियों को नारियल दिया गया है, जिसे छूकर उन्होंने कसम खायी है कि वो झूठ नहीं बोल रहे हैं.

इस शपथ पत्र के वायरल होने पर समस्तीपुर शाखा के पुलिस मेंस एसोसिएशन के अध्यक्ष मुकेश कुमार ने कहा है कि छुट्टी के लिए इस तरह का तरीका अपनाना एकदम गलत है. उन्होंने कहा कि ये परम्परा के विपरित है,वहीं, समस्तीपुर के पुलिस अधीक्षक विकास वर्मन ने कहा है कि छठ की छुट्टी को लेकर एक शपथ पत्र वितरित करने की बात कही जा रही है जिसपर आधिकारिक रूप से हस्ताक्षर किया हुआ है.  आधिकारिक तौर पर ऐसा कोई मामला नहीं है.