जानिए, कैसे पकड़े गए हैदराबाद में वेट डॉक्टर से गैंगरेप और हत्या के आरोपी

जानिए, कैसे पकड़े गए हैदराबाद में वेट डॉक्टर से गैंगरेप और हत्या के आरोपी

छब्बीस वर्षीय महिला पशु चिकित्सक का शव जली हुई हालत में गुरुवार को मिलने के बाद साइबराबाद पुलिस ने शुक्रवार को गैंगरेप और हत्या के आरोप में हैदराबाद से चार लोगों को गिरफ्तार किया। आरोपियों की पहचान मोहम्मद आरिफ (26), जोल्लू शिवा (20), जोल्लू नवीन (20) और चिंतकुंटा चेन्नाकेशवुलू के तौर पर हुई है।

साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वी. सज्जनार ने कहा कि इस बर्बरतापूर्ण रेप और हत्या को 48 घंटे के अंदर सुलझाने के लिए साइबराबाद पुलिस, शादनगर पुलिस और शमशाबाद पुलिस ने साथ मिलकर काम किया। पुलिस का कहना है कि उन्होंने वारदात की जगह पर मिले सुराग, सीसीटीवी कैमरे, आरोपियों की तरफ से लिए गए रास्ते, प्रत्यक्षदर्शियों और गुप्तचरों की निशानदेही पर चार आरोपियों को पकड़कर उन्हें शादनगर पुलिस थाने लाया गया।

पुलिस के मुताबिक, मोहम्मद आरिफ भारी ट्रक चलाने वाला घटना का मुख्य अभियुक्त है, जिसे हैदराबाद में मंगलवार को सामान की डिलीवरी करनी थी। लेकिन, सामान लेने वाले के नहीं होने के चलते आरिफ ने अपने साथ सफाई करने वाले जोल्लू सिवा और दो अन्य साथी नवीन और चेन्नकेशवुलू के साथ ट्रक को शमशाबाद के टोंडपुल्ले टोल गेट के पास गाड़ी खड़ी की। यह हैदराबाद का बाहरी इलाका है।

बुधवार की शाम करीब छह बजे चारों ने देखा कि एक महिला ने अपनी स्कूटी खड़ी की और वहां से चली गई। उसके बाद उस महिला के खिलाफ यह साजिश रची गई। पुलिस के मुताबिक, उन चारों आरोपियों ने वारदात के वक्त शराब पी रखी थी।

उनकी योजना के मुताबिक, नवीन को उस वेटनरी डॉक्टर की स्कूटी को पंचर करना था और उसकी वापसी तक उसका इंतजार करना था। जब वे महिला डॉक्टर गाछीबावली से 9 बजकर 15 मिनट पर अपनी स्कूटी लेने के लिए वापस लौटी तो आरिफ अपने ट्रक से उतरा और उसके पास गया और कहा कि यह टायर पंचर है। जिसके बाद उसने वेटनरी डॉक्टर से स्कूटी को रिपेयर कराने का ऑफर किया। उसके बाद उसने सफाई करने वाले शिवा के साथ स्कूटी भेज दी।

ठीक उसी वक्त उस महिला पशु डॉक्टर ने अपनी बहन को फोन कर बताया कि एक ट्रक ड्राईवर ने पंचर ठीक कराने का ऑफर किया है और सफाई करनेवाले को रिपेयर के लिए देकर भेजा है। इस फोन कॉल की रिकॉर्डिंग गुरुवार को खूब सर्कुलेट हुई, जिसमें वह ये अपनी बहन से कह रही है कि वह काफी डर हुई थी।

दोनों बहनों की बातचीत के करीब पन्द्रह मिनट के अंदर ही 9 बजकर 40 मिनट पर महिला पशु डॉक्टर का फोन स्वीच ऑफ हो गया। पुलिस ने बताया कि आरिफ, नवीन और चेन्नकेशवुलू ने जबरदस्ती पास के एक चहारदीवारी में ले गया और उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया।