दांतों की बीमारी से परेशान हैं तो अपनाएं यह उपाय जो स्वस्थ रखे आपके दांतों को

दांतों में रोग लग जाने के बाद जिन्दगी वेस्वाद हो जाती है। दांतों की सुरक्षा को बनाए रखना आपकी जीवन शैली को भी प्रभावित करता है साथ ही आपके व्यक्तित्व में भी विशेष निखार लाता है। दांतों के रोगों के उपाय के लिए हमारे द्वारा बताए जा रहे उपाय को जरूर अपनाएं।

उपाय साधारण है और घर में तैयार किया जा सकने वाला है। सैंदा नमक सभी घरों में होता है न होने पर बाजार से मामूली कीमत में खरीदा जा सकता है।सैंया नमक को मैदे की तरह बारीक पीसकर कपड़े से छान लें। ध्यान रहे नमक को रगड़ें नहीं। छना हुआ नमक मात्र 2 ग्राम मात्रा से हथेली पर रखें और उसमें करीब 8 ग्राम सरसों का तेल मिला लें। फिर हथेली को टेड़ी करके तेल की बूंदों से उंगली से मसूड़ों पर हल्के-हल्के मालिश करें। ऐसा आपको रोजाना प्रातःकाल करना है। अगर थोड़ा खेन निकलता है तो घबराने की जरूरत नहीं है, खून को निकलने दें। मसूड़ों पर मालिश के पश्चात तेल भीगा हुआ बाकी मिश्रण दांतों व दाढ़ों के बीच लेप की तरह लगाकर करीब 1 मिनट तक रहने दें उसके फौरन बाद कुल्ला कर लें। कुल्ला सादा अथवा गुनगुने पानी का ही करें। 

उपरोक्त विधि का नियमित पालन करने से कुछ ही दिनों में दांतो में खट्टा लगना, ठंडा या गरम लगना, मसूड़ों की सूजन? हिलते हुए दांत मसूड़ों से खून निकलना इत्यादि बीमारियों का नाश हो जाता है। एक तरह से दांतों के लगभग हर रोग का निदान इस साधारण उपाय से हो जाता है।