दिल्ली में 12 साल की बच्ची के साथ निर्भया जैसी हैवानियत करने वाला आरोपी गिरफ्तार, पीड़िता एम्स में भर्ती

Delhi Police arrested accused in sexual assault of a 12-year-old girl in Pashchim Vihar | दिल्ली में 12 साल की बच्ची के साथ निर्भया जैसी हैवानियत करने वाला आरोपी गिरफ्तार, पीड़िता एम्स में भर्ती 

दिल्ली के CM केजरीवाल पश्चिम विहार वेस्ट के पीरागढ़ी इलाके में हैवानियत का शिकार हुई 12 साल की बच्ची से मिलने AIIMS पहुंचे। बच्ची का ना सिर्फ यौन उत्पीड़न हुआ है बल्कि उसके चेहरे और सिर पर तेज धार हथियार से वार भी किया गया है।

 पश्चिमी दिल्ली के पश्चिम विहार इलाके में 12 साल की एक बच्ची के साथ यौन उत्पीड़न के मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि बच्ची के साथ निर्भया जैसी हैवानियत की गई है। पुलिस ने आरोपी के गिरफ्तारी के बारे में गुरुवार (6 अगस्त) रात 9.30 के आसपास बताया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी की पहचान सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हुई है और उसका पुराना आपराधिक रिकॉर्ड भी है

पुलिस ने अभी तक आरोपी की पहचान जाहिर नहीं की है। पुलिस ने बताया कि पश्चिम विहार निवासी इस बच्ची का ना सिर्फ यौन उत्पीड़न हुआ है बल्कि उसके चेहरे और सिर पर तेज धार हथियार से वार भी किया गया है। बच्ची के पड़ोसियों ने उसे खून में लथपथ देखकर पुलिस को सूचित किया था। फिलहाल एम्स में उसका इलाज चल रहा है। 

 के मुताबिक घटना मंगलवार (4 अगस्त) की है और पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर बताई गई है। पीड़िता के शरीर पर चोट के निशान हैं। 

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल बच्ची से मिलने AIIMS पहुंचे, परिवार को 10 लाख देने का ऐलान  

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पीड़िता से मिलने के लिए गुरुवार (6 अगस्त) को AIIMS पहुंचे। सीएम केजरीवाल ने डाक्टरों की टीम से बच्ची की हालात के बारे में पूछा। केजरीवाल ने बताया कि मासूम की हालत काफी गंभीर है। आने वाले 24 से 48 घंटे उसके लिए काफी अहम है। सीएम केजरीवाल ने परिवार वालों को 10 लाख रुपये देने का ऐलान किया। 

केजरीवाल ने बताया, मैंने पुलिस कमिश्नर से भी बात की। इस जघन्य वारदात करने वाले अपराधियों को सख्त से सख्त सजा दिलवाएंगे।

4 अगस्त को हुई थी वारदात, बच्ची के माता-पिता घर पर नहीं थे मौजूद

पुलिस ने कहा कि उन्हें घटना की सूचना मंगलवार शाम को मिली। पड़ोसियों ने पीड़िता को खून से लथपथ देखने के बाद पुलिस और उसके माता-पिता को सूचना दी। पीड़िता को पास के ही एक अस्पताल ले जाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे एम्स के लिए रेफर किया गया था।

पुलिस ने संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस उपायुक्त (बाहरी दिल्ली) एकोआं ने कहा, ” हमें पश्चिम विहार वेस्ट पुलिस थाने में मंगलवार शाम को नाबालिग लड़की के उत्पीड़न की सूचना मिली थी। इस मामले में धारा 307 (हत्या का प्रयास) और पोक्सो एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है और आगे की जांच की जा रही है।”

बच्ची के शरीर पर कई चोट के निशान

 पुलिस ने कहा था कि शुरुआती जांच में सामने आया है कि जिस समय घटना हुई, उस समय बच्ची के माता-पिता घर में मौजूद नहीं थे। पुलिस के मुताबिक, उसके माथे और चेहरे पर किसी धारदार चीज से कई बार वार किया गया। 

आरोपी को लगा कि बच्ची की मौत हो गई है, जिसके बाद वह मौके से फरार होने में कामयाब रहा। वहीं, इस मामले के संबंध में दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस को नोटिस जारी किया है और घटना को लेकर आठ अगस्त तक विस्तृत कार्रवाई रिपोर्ट तलब की है