दुनिया होगी तबाह! हुई इस खतरनाक वायरस की दस्तक, कोरोना जैसा है घातक

कोरोना वायरस के बीच एक और खतरनाक वायरस ने दस्तक दे दी है। जिससे लोगों में एक डर सा समा गया है। ये भी वायरस चीन से ही फैला है।

SFTS virus

 चीन से फैले कोरोना वायरस महामारी ने पूरी दुनिया में कोहराम मचाया हुआ है। दुनियाभर में अब तक इस वायरस की चपेट में करीब दो करोड़ लोग आ चुके हैं, जबकि साढ़े सात लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। इस बीच एक और खतरनाक वायरस ने दस्तक दे दी है। जिससे लोगों में एक डर सा समा गया है। ये भी वायरस चीन से ही फैला है। इस वायरस को वायरस का नाम दिया गया है।

कोरोना की ही तरह खतरनाक है SFTS वायरस

SFTS वायरस कोरोना की ही तरह खतरनाक है और यह भी एक से दूसरे इंसान में फैलता है। अब तक इस वायरस की चपेट में आने की वजह से सात लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 60 लोग अब तक संक्रमित हो चुके हैं। बता दें कि चीन में इस वायरस ने पहली बार 2010 में दस्तक दी थी। इसके बाद जापान और कोरिया में भी इसके कुछ मामले सामने आए थे।

SFTS virus 2

इतनी है मौत की दर

इस वायरस को Tick Borne डिजीज भी कहा जाता है। वैज्ञानिकों का मानना है कि ये वायरस पशुओं के शरीर पर चिपकने वाले किलनी (टिक) जैसे कीड़े से इंसानों में फैल सकता है। इस वायरस से जानवरों में मौत की दर तो कम हो जाती है, लेकिन इंसानों में मौत की दर बढ़ जाती है। इसकी वजह से इंसानों में मृत्यु दर 30 फीसदी तक दर्ज की गई है। फिलहाल मिली जानकारी मुताबिक, मौत की दर दस से 16 फीसदी के बीच है।

क्या हैं इस वायरस के लक्षण-

इससे संक्रमित होने पर इंसान को हाई फीवर, शुरू में खांसी और बुखार और न्यूरोलॉजिकल बीमारी, मांसपेशियों में दर्द, खाना नहीं पचना, उल्टी दस्त, शरीर में ल्यूकोसाइट और प्लेटलेट की कमी जैसी समस्याएं होने लगती हैं।

SFTS VIRUS IN CHINA

चीनी मीडिया ने जारी की चेतावनी

चीनी मीडिया ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए इंसानों के बीच संक्रमण फैलने की आशंका को लेकर चेतावनी जारी कर दी है। पूर्वी चीन के जियांग्सू प्रांत में साल की पहली छमाही में SFTS वायरस (SFTS Virus) से 37 से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं।