दुल्हन ने विदाई के वक्त देखी ‘काली’ चीज, गुस्से में खाली हाथ लौटा दी बारात

यहां जयमाल की रस्म होने के बाद जब चढ़ावे की रस्म शुरू हुई तो दुल्हन और उसके परिवार को कुछ ऐसा नजर आया कि उन्होंने बरात को उल्टे पांव वापस लौटा दिया, जिसके बाद दुल्हन और उसके परिवार को मनाने के लिए 24 घंटे तक मान-मनौव्वल चलता रहा, लेकिन दुल्हन और उसके परिवार ने किसी की एक नहीं सुनी।यह मामला उन्नाव के पुरवा जिले का है, जहां बरात को बिना दुल्हन के ही वापस लौटना पड़ा। दरअसल यहां दूल्हन के पिता ने काली चूड़ी और कम व टूटे जेवर देखकर बेटी को विदा करने से मना कर दिया।द्वारचार रस्म पूरी होने के बाद बरातियों व कन्या पक्ष के लोगों ने खाना खाया। रात को चढ़ावा चढ़ने के दौरान जब युवती के पिता ने काली चूड़ी व जेवरात कम देखे तो वह लड़के वालों पर काफी भड़क उठे। काफी देर तक हंगामा होता रहा। बाद में किसी तरह से उन्हें समझाकर शांत किया गया।इसके बाद भांवरे व अन्य रस्में पूरी हुईं। शनिवार सुबह विदाई के समय जब दुल्हन को जेवरात पहनाए जाने लगे, उसमें टूटे जेवर निकलने से फिर पिता आक्रोशित हो गए। उन्होंने युवती को विदा करने से मना कर दिया।