देखिए वित्त मंत्री के किस ऐलान से शेयर बाजार में आया 2000 अंकों का उछाल

अर्थव्यवस्था सुदृढ़ बनाने और आर्थिक मंदी के असर को कम करने के लिए वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण पिछले कई दिनों से कई राहत की घोषणा की है। इसी कड़ी में 20 सितंबर को वित्त मंत्री द्वारा घरेलू कंपनियों के लिए राहत का ऐलान करते ही शेयर बाजार में 2000 अंक से अधिक का जबर्दस्त उछाल देखा गया।

केंद्रीय वित्त एवं कॉर्पोरेट मामलों की मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने आज गोवा में एक प्रेस वार्ता के दौरान कराधान कानून (संशोधन) अध्यादेश 2019 का ऐलान किया। देखिए वित्त मंत्री ने किन राहतों का ऐलान किया।

मेक इन इंडिया और निवेश को बढ़ावा दिए जाने से शेयर बाजार में उछाल

  • कराधान कानून (संशोधन) अध्यादेश 2019 की घोषणा 
  • वित्त वर्ष 2019-20 से घरेलू कंपनियों के लिए कॉर्पोरेट टैक्स को घटा कर 22% किया गया
  • मेक इन इंडिया की पहल को बढ़ावा देने के लिए, नई घरेलू कंपनी के लिए कॉर्पोरेट टैक्स घटाकर 15% किया गया
  • रियायती कर व्यवस्था का विकल्प चुनने वाली कंपनियों के लिए न्यूनतम वैकल्पिक टैक्स की दर 18.5% से घटा कर 15% की गई
  • इक्विटी शेयर / इक्विटी फंड यूनिट या व्यावसायिक ट्रस्ट यूनिट की बिक्री से होने वाले पूंजीगत लाभ पर कोई सरचार्ज लागू नहीं होगा
  • credit: PIB
  • .विदेशी पोर्टफोलियो वाले निवेशकों (एफपीआई) के डेरिवेटिव समेत किसी भी प्रतिभूति की बिक्री से होने वाले पूंजीगत लाभ पर कोई कर कोई सरचार्ज नहीं
  • 5 जुलाई 2019 से पहले सूचीबद्ध कंपनियों द्वारा शेयरों के बायबैक पर कोई कर नहीं
  • अब 2% सीएसआर राशि केंद्र अथवा राज्य सरकार अथवा किसी एजेंसी अथवा केद्र व राज्यों के सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम द्वारा वित्तपोषित इनक्यूबेटर्स पर भी खर्च की जा सकेगी
  •  राहतों के ऐलान से राजस्व में 1,45,000 करोड़ रुपये की कटौती होगी