देश में कोरोना से 40वीं मौत, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 1340

नई दिल्ली। देश में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। देशभर में अब तक 40 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमितों की संख्या 1340 तक पहुंच गई है। हालांकि 140 लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। कोरोना से सबसे ज्यादा महाराष्ट्र और केरल प्रभावित है।

इंदौर में सामने आए 17 नए मामले

मंगलवार सुबह अकेले इंदौर में कोरोना वायरस के 17 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ संक्रमितों की संख्या 44 पहुंच गई है, जबकि प्रदेश में यह आंकड़ा 64 पर पहुंच गया है। वहीं मरने वालों की संख्या पांच हो गई है।

इंदौर में एक और ने दम तोड़ा, अब तक तीन मौत

इंदौर में भी कोरोना वायरस का खतरा बढ़ता जा रहा है। सोमवार देर रात इंदौर में कोरोना से एक और मरीज की मौत हो गई। इससे पहले सोमवार सुबह भी एक 41 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई है। इसको मिलाकर अब तक तीन मौत हो चुकी है। इंदौर में 32 और पूरे प्रदेश में अब तक 47 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि पांच लोगों की मौत हो चुकी है।

24 मरीजों में से 18 की हालत में लगातार हो रहा है सुधार

इंदौर जिला प्रशासन द्वारा देर रात जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार इंदौर के मनोरमा राजे चिकित्सालय में भर्ती 24 कोना पॉजिटिव मरीजों में से 18 मरीजों की हालत में लगातार सुधार हो रहा है। कल रात एक मरीज धार रोड निवासी जरीन बी पति अकरम खान उम्र 49 वर्ष की उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। उक्त कोरोना पॉजिटिव मरीज 22 मार्च से अरिहंत हॉस्पिटल में भर्ती थी। कल शाम ही उसे मनोरमा राजे चिकित्सालय में स्थानांतरित किया गया था। मृतका ब्लड प्रेसर और डायबिटीज से पीड़ित थी। डॉक्टरों ने बताया कि मृतका की कोई ट्रैवल हिस्ट्री या कांटेक्ट हिस्ट्री नहीं है। हेल्थ बुलेटिन के अनुसार कल इंदौर जिले में 46 सैंपल लिए गए जिनमें से 33 सैंपल नेगेटिव पाए गए । शेष 13 सैम्पलों की आईसीएमआर के निर्देशानुसार तकनीकी जांच की पूर्णता नहीं होने के कारण पुनः जांच के लिए भेजा गया है।

महाराष्ट्र में सबसे अधिक संक्रमित

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मरीज तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। अब तक 216 लोग संक्रमित पाए गए हैं, जबकि 10 लोगों की मौत हो चुकी है। महाराष्ट्र के अलावा केरल, उत्तर प्रदेश, दिल्ली समेत 20 से अधिक राज्यों में कोरोना तेजी से पांव पसार रहा है। बताया जा रहा पूरे राज्य में 38 मरीज पूरी तरह से ठीक हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। प्रदेश में 17151 व्यक्ति ‘होम क्वारंटीन‘ और 960 इंस्टीट्यूशनल क्वारंटीन में रखा गया है।

मरकज संचालक पर एफआईआर के आदेश

दिल्ली में धारा-144 लागू होने के बाद भी निजामुद्दीन क्षेत्र में धार्मिक जलसे का आयोजन किया गया। दिल्ली सरकार ने इसे आपराधिक कृत्य बताते हुए तब्लीगी जमात के मरकज संचालकों पर एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। गौरतलब है कि धार्मिक जलसे से तेलंगाना लौटे 6 लोगों की मौत हो गई, जिनमें कोरोना संक्रमण पाए गए थे, जबकि 350 लोगों में कोरोना लक्षण मिलने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है।