धीरे-धीरे पेट में कैंसर बना देती हैं नियमित रूप से खाई जाने वाली ये चीज़ें

पेट का कैंसर फेफड़ों के कैंसर के बाद कैंसर का दूसरा सबसे घातक प्रकार होता है। एक रिपोर्ट के मुताबिक हर साल न जाने कितने लोग इससे प्रभावित होते हैं और न जाने कितने लोग इसके चलते मर जाते हैं। पेट के कैंसर का इलाज शुरुआती चरणों में प्रभाव होता है लेकिन अगर यह लास्ट स्टेज तक पहुंच जाए तो उसे पहचानना मुश्किल हो जाता है।
प्रोसैस्ड मीट के अधिक सेवन से ना सिर्फ आपको पेट के कैंसर बल्कि कई सारी गंभीर बीमारियों का खतरा रहता है। साल 2015 में विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक प्रोटेस्ट मीट कैंसर का कारण बनते हैं। उन्हीं में से एक है लाल मास जिसके कारण भी आपको कैंसर हो सकता है।आपको बता दें कि इस बीच के अलावा कई सारी चीजें ऐसी होती है जो कैंसर को बढ़ावा देने का काम करती हैं। जिसमें से एक सफेद ब्रेड की है सफेद आटे की खाद पदार्थों में परी कस्टमर ब्लड ग्लूकोस के लेवल को बढ़ा देते हैं। जिससे इंसुलिन रेसिस्टेंस होता है इससे आपको पेट के कैंसर का खतरा अधिक होता है इतना ही नहीं इससे किडनी का कैंसर भी आपको प्रभावित कर सकता है।आजकल लोग बड़ी मात्रा में सुगंधित पेय पदार्थों का सेवन करते हैं। थोड़ा भी यूनिवर्स एक ऐसी चीज है जिसका प्रचलन काफी तेजी से आजकल बढ़ता हुआ देखा जा रहा है। मीठे पदार्थों मोटापे के बीच में संबंध देखा जाता है यह चीजें कैंसर का कारण बन सकती हैं।कुछ ऐसे खाद पदार्थ है जो पेट के कैंसर को रोकने का काम करते हैं। फल सब्जियां साबुत अनाज जैसे खासदार सभी पेट के कैंसर से लड़ते हैं। क्योंकि इसके अंदर फाइबर की मात्रा अच्छी होती है। और पेट के कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए आपको समय-समय पर करना चाहिए।