धोनी के भविष्य को लेकर वेंकटेश प्रसाद का बड़ा बयान, जानिए क्या कहा

धोनी के भविष्य को लेकर वेंकटेश प्रसाद का बड़ा बयान, जानिए क्या कहा
 जब-जब महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni)का नाम लिया जाता है तो हर एक भारतीय इमोंशनल हो जाता है. वास्तव में देखा जाए तो धोनी कोई साधारण खिलाड़ी नहीं हैं, ये वो शख्स है जिसने टीम इंडिया को टी-20 वर्ल्ड कप, वनडे वर्ल्ड कप और चैंपियंस ट्रॉफी के खिताब दिलाए हैं. सच कहा जाए तो धोनी को लेकर भारतीय इसलिए भी जज्बाती हो जाते हैं क्योंकि हर छोटे शहर के भारतीय को उनमें एक उम्मीद नजर आती है, एक सपना नजर आता है कि एक दिन हम भी धोनी की तरह कामयाब होंगे और आसमान को छूएंगे. इसी वजह से जब-जब धोनी के रिटायरमेंट पर बात होती है तो हर कोई भावुक हो जाता है और प्रार्थना करने लगता है कि इस महान खिलाड़ी की विदाई भी महान होनी चाहिए.धोनी के संन्यास की चर्चाएं उसी दिन से हो रही है जिस दिन टीम इंडिया 2019 के वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गयी थी. ये मैच धोनी का आखिरी मैच था और तब से माही कोई भी मैच नहीं खेले हैं. अब धोनी के भविष्य को लेकर पूर्व भारतीय गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद (Venkatesh Prasad) ने एक बड़ा बयान दिया है. प्रसाद ने धोनी की टीम इंडिया में वापसी का समर्थन करते हुए कहा कि वैसे तो धोनी 40 साल के होने वाले हैं और उन्होनें पिछले साल से किसी भी तरह का क्रिकेट नहीं खेला है, फिर भी उनका अनुभव भारतीय टीम के लिए काम आ सकता है. इसके साथ ही प्रसाद ने टीम मैनेजमेंट को सलाह देते हुए कहा कि धोनी को अब एक फिनिशर के तौर पर न खिलाकर, नंबर 3 या 4 पर बैटिंग करानी चाहिए.प्रसाद ने कहा, ‘धोनी को फिनिशर के बदले मैं ऊपरी क्रम में खिलाऊंगा. मैं उन्हें 3 या 4 नंबर पर बल्लेबाजी करने को बोलूंगा और अगर पारी में सिर्फ 10 ओवर बचे हैं, तो मैं उन्हें बोलूंगा कि वह जैसे फिनिशर की तरह खेलते हैं, वैसे ही खेलें. हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि धोनी के पास काफी लंबा अनुभव है और उनकी सलाह बहुत अहम होती है.’प्रसाद ने आगे कहा, ‘फिलहाल भारतीय टीम में वापसी करना धोनी के लिए काफी मुश्किल है. उन्होंने लगभग 1 साल से क्रिकेट नहीं खेला है, इस वजह से उनके सामने काफी मुश्किल चुनौती है. इस बात में कोई दो राय नहीं कि वह अभी भी काफी फिट हैं, लेकिन उम्र के साथ काफी चीजें बदलती हैं. वो 40 साल के होने वाले हैं. यह टीम मैनेजमेंट के ऊपर है कि वह धोनी को लेकर क्या रणनीति बनाती है.’गौरतलब है कि धोनी का नंबर 4 पर रिकोर्ड बेहतरीन है. नंबर 4 पर बैटिंग करते हुए धोनी ने अब तक 46 पारियों में 2,351 रन बनाये हैं और इस नंबर पर उनकी औसत 50 से ज्यादा की है, इसलिए अगर उन्हें ऊपरी क्रम में खिलाया जाता है तो ये टीम इंडिया के लिए काफी फायदेमंद होगा और इस तरह धोनी एक बार फिर क्रिकेट के मैदान पर वापसी कर सकेंगे.