पुराने दिनों को याद कर श्रीसंत का छलका दर्द, बोले- 2013 में मुझे दिल्ली पुलिस ने आतंकी वार्ड…

 टीम इंडिया के तेज गेंदबाज एस श्रीसंत ने कहा कि साल 2013 में जब उनके ऊपर फिक्सिंग के आरोप लगे थे। तो उन्हें दिल्ली पुलिस ने पुछताछ के लिए आंतकी वार्ड में रखा गया था। जहां मेरे साथ लगातार 16 घंटे तक पुलिस के आला अफसरों ने सावल जावब किए। बता दें, आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग में नाम सामने आने के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगाया था। हालांकि उनका प्रतिबंध बाद में घटकर सात वर्ष का रह गया था जो सामाप्त हो गया। दरअसल, एक क्रिकेट वेबसाइट से बातचीत के दौरान श्रीसंत ने कहा, ‘अगर तुम मेरी जान लोगे तो इसमें बस कुछ सेकेंड लगेंगे। उस दिन मैच पार्टी चल रही थी और मुझे आतंकियों के वार्ड में ले जाया गया। मुझे लगा जैसे कि मुझे बकरा बनाया गया हो।’ श्रीसंत ने आगे कहा, ‘मुझसे 12 दिनों तक 16 से 17 घंटे पूछताछ हुई, मैं उस वक्त अपने परिवार के बारे में सोचता था। कुछ दिन बाद मेरा भाई मुझसे मिलने आया और फिर मुझे पता चला कि मेरा परिवार सही है. उस मुश्किल वक्त में मेरे परिवार ने मेरा साथ दिया।’
PunjabKesari
बता दें कि, श्रीसंत केरल के ऐसे दूसरे खिलाड़ी हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्व किया है। उन्होंने भारत के लिए 27 टेस्ट मैचों में 87 विकेट लिए हैं। वहीं 53 वनडे मैचों में उनके नाम 75 विकेट हैं और 10 टी-20 मैचों में सात विकेट ले चुके हैं। श्रीसंत भारत की उस टीम का हिस्सा थे, जिसने 2007 में टी-20 और 2011 में वनडे विश्व कप जीता था।
PunjabKesari