पूर्व क्रिकेटर मुनाफ पटेल फँसे हो सकती है जेल

मुनाफ पटेल एक बड़ी मुश्किल में फंसते नजर आ रहे हैं। क्रिकेट एकेडमी में एडमीशन के नाम पर हुए घोटाले में मुनाफ पटेल का नाम सामने आया है। आपको बता दें की मुनाफ 2011 वर्ल्ड कप विजेता टीम का हिस्सा थे।

फंस गए मुनाफ?

क्रिकट्रैकर की खबर के मुताबिक बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन (BCA) ने शिवम भारद्वाज नाम के एक ऐसे युवा खिलाड़ी को पकड़ा है जो कि गुजरात से बाहर का है और इसके बावजूद उसका एडमिशन बीसीए की एकेडमी में हुआ. शिवम भारद्वाज नामक इस खिलाड़ी ने फर्जी दस्तावेजों के दम पर एकेडमी में एंट्री की. शिवम बड़ौदा की ओर से अंडर 16 क्रिकेट खेलना चाह रहा था लेकिन जांच में सामने आया है कि शिवम की उम्र 16 साल से ज्यादा है. यही नहीं शिवम ने एकेडमी में एडमिशन के लिए फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल किया.

शिवम भारद्वाज के फर्जी दस्तावेजों में स्कूल से लेकर आधार कार्ड तक सबकुछ फर्जी है. जब शिवम भारद्वाज के दस्तावेजों की जांच की गई तो इसमें मुनाफ पटेल  (Munaf Patel) का नाम भी सामने आया. जांच के मुताबिक मुनाफ पटेल ने शिवम भारद्वाज की बीसीए में एंट्री कराने में मदद की. शिवम भारद्वाज के दस्तावेजों में मुनाफ का जन्मस्थान इकहर लिखा हुआ है. इसके बाद मुनाफ पटेल पर और शक बढ़ गया.

अभी तक ये साफ नहीं है कि बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन मुनाफ पटेल और शिवम भारद्वाज के खिलाफ केस दर्ज कराएगी या नहीं. 23 जुलाई को बीसीए की बैठक होनी है जिसमें इस मुद्दे पर चर्चा हो सकती है. उसके बाद ही मुनाफ और शिवम भारद्वाज पर फैसला लिया जा सकता है. लेकिन एक बात तो तय है कि टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज मुनाफ पटेल मुश्किल में हैं.