बस कुछ दिन गुनगुने पानी के साथ खायें किशमिश, कब खत्म हो जाएंगे ये 10 गंभीर रोग पता भी नहीं चलेगा

सूखे अंगूरों को किशमिश कहा जाता है। किशमिश में जिंक, कैल्शियम, विटामिन और कार्बोहाइड्रेट जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर के बेहतर कामकाज के लिए जरूरी हैं। एक अध्ययन के अनुसार, रोजाना एक मुट्ठी किशमिश खाने से आपको कई गंभीर समस्याओं से राहत मिल सकती है। किशमिश का सेवन आप कई तरह कर सकते हैं लेकिन इसे गुनगुने पानी के साथ खाने से आपको अधिक फायदा हो सकता है। चलिए जानते हैं आपको इसके सेवन से क्या-क्या फायदे हो सकते हैं।

एसिडिटी
बहुत से लोगों को को एसिडिटी की समस्या होती है, उन्हें भी इस पानी का सेवन जरूर करना चाहिए। इसमें मौजूद फाइबज पेट की सफाई करके गैस से छुटकारा दिलाते हैं। कब्ज एक ऐसी परेशानी है जो शरीर में कई बड़ी बीमरियां पैदा करने की वजह होती है लगातार कुछ दिनों तक किशमिश के सेवन करने से पेट में पाचन क्रिया सही हो जाती है और कब्ज की परेशानी दूर होती है।

थकान और कमजोरी
सारा दिन कामकाज करने की वजह से थकान होना तो आज कल एक आम बात है। ऐसे में हर रोज सुबह इस पानी का सेवन करने से शारीरिक कमजोरी और थकान दूर होती है और हमारे शारीर को आराम मिलता है।

आखों की रोशनी बढ़ाने में सहायक
किशमिश को आप दो प्रकार से खा सकते हैं। पहला, तो यह कि किशमिश को पानी से निकालकर अच्छी तरह चबाते हुए खाएं और ग्लास के पानी को हल्का गुनगुना कर पी लें। इसके आलावा एक तरीका और है भीगे हुए किशमिश को उसी पानी में चम्मच से अच्छी तरह मैश कर लें और किशमिश समेत पानी को पी ले| विटामिन ए की कमी पूरी करने के कारण भी यह आंखों की रोशनी बढ़ाता है।

खून की कमी
जिन लोगों के शरीर में खून की कमी होती है उनके लिए यह पानी बहुत फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद आयरन और कॉपर शरीर में खून की कमी को दूर करते हैं। किशमिश पर भी यह लागू होता है। लौह तत्वों के अलावा इसमें बी-कॉम्प्लेक्स भी होने के कारण शरीर इसे अच्छी प्रकार से अवशोषित कर पाता है। इस प्रकार एनीमिया ठीक करने में यह बेहद कारगर होता है।

Anemia in the Older Adult: 10 Common Causes & What to Ask

शरीर में आती है ताकत
अगर यदि आप दुबले पतले है तो शायद आप के लिए ये तरीका कारगर हो सकता है और शायद आपको पता भी नही होगा की किशमिश आपके शरीर में पाचन क्रिया को नियमित करता है जिससे आपको भोजन के सभी पोषण मिलते हैं। इससे शारीरिक कमजोरी भी दूर होती है।इसके लिए आप को सुबह नाश्ते में केला और दूध खाने के बाद किशमिश भी खाना चाहिए और ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपको बदलाव दिखेगा।

मजबूत हड्डियां 
मुलायम सी दिखने वाली किशमिश हड्डियों को भी मजबूत बनाने में सक्षम होती है। ऐसे में अगर आप जोड़ों के दर्द, घुटनों के दर्द से परेशान रहते हैं तो आपके लिए किशमिश का सेवन करना काफी लाभदायक रहेगा।

10 calcium-rich foods that will make your bones stronger, heart ...

लीवर बनता है मजबूत 
किशमिश हड्डियों को मजबूत ही नहीं करती है बल्कि इसमें मौजूद विटामिन ए, विटामिन बी कंपलेक्स और सेलेनियम शरीर में होने वाले गुप्त रोगों, कमजोर लीवर और कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी मजबूत बनाने का काम करते हैं। इसके लिए अगर आप किशमिश को रात में पानी में भिगोकर रखें और सुबह उस पानी का सेवन करें तो काफी लाभ नजर आएगा।

पाचन रहता है दुरुस्त
अगर आप पाचन तंत्र की समस्या से परेशान रहते हैं तो आपको सुबह खाली पेट 4-5 भीगे हुए किशमिश का सेवन करना काफी फायदेमंद साबित होगा। इसमें फाइबर की मात्रा होने के कारण या पाचन को दुरुस्त करता है।

पाचन शक्ति बढ़ाएं गैस, कब्ज से ...

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने में सहयक
किशमिश में फाइबर के साथ और भी कई अन्य तत्व मौजूद होते हैं जो कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करते हैं और दिल की बीमारियों से भी बचाव करते हैं। हाई ब्लड प्रेशर के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। यह ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है। इसमे पाए जाने वाला पोटैशियम तत्व हाइपरटेंशन से बचाव करता है।

इम्यूनिटी बढ़ाने में सहायक
किशमिश को भिगोकर खाने और इसका पानी पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो इम्यूनिटी को बूस्ट करता है। यह विटामिन सी का बेहतर स्रोत है।