बहुत महंगा बकरा: 160 किलो वजन का ये जानवर, कार से भी ज्यादा इसकी कीमत

बहुत महंगा बकरा: 160 किलो वजन का ये जानवर, कार से भी ज्यादा इसकी कीमत

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में एक बकरा काफी ज्यादा चर्चा में रहा। अपने अनोखे कारणों के चलते इस बकरे में सभी को हैरान करके रख दिया है। इस लाजवाब बकरे की खासियत ये है कि ये 8 फुट लम्बा और वजन में 160 किलो का है। ये बकरा बकरीद पर कुर्बानी के लिए पंजाब से भिलाई पहुंच चुका है। इस बकरे की कद-काठी और खासियत को देखने सैकड़ों लोगों की भीड़ टूट पड़ी है।

बकरा दिखने में जितना खास है उतनी ही इसकी खूबियां

देश में लॉकडाउन के चलते प्रशासन के गाइडलाइन के मुताबिक, बकरीद का त्योहार मनाया जाएगा। बकरीद के लिए शहर में कुर्बानी के लिए एक से बढ़कर एक बकरे आए। ऐसे में अलग-अलग नस्ल के इन बकरों के दाम भी हैरान करने वाले होते है। जिसके चलते खरीदार बाहर न जाकर घर बैठे-बैठे ऑनलाइन बकरे खरीद रहे हैं।

तो अब शहर में एक बकरे की चर्चा बुलंदियों पर है। यह साधारण बकरा नहीं है बल्कि इसकी खासियत इसे अन्य बकरों से अलग बनाती है। तोतापारी व जमनापारी क्रास नस्ल का यह बकरा दिखने में जितना खास है उतनी ही इसकी खूबियां हैं। ये बकरा भिलाई फरीद नगर निवासी आई अहमद उर्फ लाल बहादुर मालिक हैं। उन्होंने इसे 1.53 लाख रुपये में खरीदा है।

इस बकरे को पंजाब से लाए

मिली जानकारी के अनुसार, लाल बहादुर सप्ताह भर पहले इस बकरे को पंजाब से लाए हैं। अहमद उर्फ लाल बहादुर फरीद नगर का रहने वाला है।

बकरे के बारे में अहमद ने बताया कि, उन्होंने इस बकरे को पंजाब से खरीदा था। 1.53 लाख रुपये के इस बकरे को पंजाब से यहां लाने में 23 हजार रुपये का खर्च आया। इस बकरे का वजन 148 किलो है।

साथ ही बकरे की लंबाई 8 फीट और यह अपनी गर्दन को 10 फीट की ऊंचाई तक ले जा सकता है। बकरे के खान-पान के बारे में उन्होंने बताया कि, विशेष तो कुछ नहीं लेकिन यह फलों का शौकीन है और ताजी सब्जियां भी बड़े ही चाव से खाता है। इस बकरीद इसे कुर्बानी के लिए लाया गया है।