भारत में चीनी स्मार्टफोन ब्रांड की बाजार हिस्सेदारी घटी

भारत में चीनी स्मार्टफोन ब्रांड की बाजार हिस्सेदारी घटी

नईं दिल्ली । भारतीय बाजार में चीनी स्मार्टफोन ब्रांड की हिस्सेदारी अप्रैल-जून तिमाही में घटकर 72 प्रतिशत रह गयी। जबकि इससे पिछली तिमाही में यह 81 प्रतिशत थी।

इसकी बड़ी वजह देश में चीन-विरोधी भावना बढ़ना और कोविड-19 की वजह से आपूर्ति में बाधा होना है। शोध कंपनी काउंटरपॉइंट रिसर्च की रपट के मुताबिक देश में स्मार्टफोन बाजार पर ओप्पो, वीवो और रियलमी जैसे चीनी ब्रांड का दबदबा है। लेकिन अप्रैल-जून तिमाही में इनकी बाजार हिस्सेदारी घटी है। शुावार को जारी रपट के अनुसार अप्रैल-जून तिमाही में देश की स्मार्टफोन बिी सालाना आधार पर 51 प्रतिशत घटकर 1.8 करोड़ इकाईं से थोड़ी ही अधिक रही। इसकी बड़ी वजह अप्रैल और मईं में कोविड-19 की वजह से देशभर में लगा लॉकडाउन रही।

काउंटरपॉइंट रिसर्च में शोध विश्लेषक शिल्पी जैन ने कहा कि अप्रैल-जून 2020 में चीनी स्मार्टफोन ब्रांडों की हिस्सेदारी घटकर 72 प्रतिशत रह गयी।