मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं विराट कोहली, यहां रहते थे पिता और दादाजी

यदि आप अब तक भारतीय क्रिकेट टीम ( indian cricket team ) के कप्तान ( captain ) विराट कोहली को पूरी तरह से दिल्ली वाला समझते हैं तो आप थोड़े से गलत भी हो सकते हैं। विराट कोहली भले ही दिल्ली में काफी समय बीता हो मगर उनका परिवार और पैतृक मकान मध्यप्रदेश में है। यहां विराट कोहली का बचपन बीता है।

देश के विभाजन के समय विराट के दादा कटनी में बस गए थे। उनके पिता प्रेम कोहली भी कटनी के गुलाबचंद स्कूल में पढ़ते थे। मध्यप्रदेश के कटनी में ही पिता प्रेम कोहली का जीवनयापन हुआ। यह भी बताया जाता है कि विराट कोहली ( virat kohli ) का बचपन भी कटनी में बीता है। वे अक्सर अपने पुश्तैनी मकान पर छुट्टियां मनाने आते थे।[MORE_ADVERTISE1]

virat1.jpg

विराट के पिता कटनी से ही बेहतर जीवन यापन के लिए दिल्ली शिफ्ट हो गए थे, जहां उन्होंने अपना कारोबार बढ़ाया। उसी दौरान दिल्ली में विराट का जन्म ( 5 November 1988 ) को हुआ था। उत्तम नगर और विकासपुरी की गलियों में विराट का बचपन बीता था। बताया जाता है कि 2006 में पिता के देहांत के बाद विराट के भाई ने उनका कारोबार संभाला और विराट डोमेस्टिक क्रिकेट खेलने लगे थे.

virat_1.jpg

कटनी में है पुश्तैनी मकान
कटनी में विराट के पिता और दादा-दादी के साथ रहते थे। अब वहां विराट के चाचा-चाजी रहते हैं। यहां आज भी कोहली परिवार का पुश्तैनी मकान है। विराट अपने चचेरे भाई के निधन के कारण 13 साल पहले कटनी आए थे। विराट की चाची आशा कोहली कटनी की महापौर रह चुकी हैं।

विराट की मां से होती है बात
बताया जाता है कि विराट और उनके चाचा के परिवार में अक्सर बात होती रहती है। हालांकि क्रिकेट की दुनिया में बड़ा नाम होने के बाद से बातचीत कम हो गई। जबकि विराट की मां सरोज और विराट के बड़े भाई विकास जरूर नियमित संपर्क में रहते हैं।


कौन-कौन है परिवार में
विराट के पापा दो दशक नैरोबी में रह चुके हैं। अब दिल्ली में उनका एक स्कूल है। जिसे अब विराट के बड़े भाई विकास संभालते हैं। विराट से बड़ी सिस्टर का विवाह हो चुका है। न्यूजीलैंड में क्रिकेट मैच के कारण विराट अपनी ही बहन की शादी में नहीं जा पाए थे। विराट अब गुरुग्राम में रहते हैं।