मिसाइल हो या तोप, कुछ नहीं बिगाड़ पाएगी इस देश का, तैयार किया ऐसा सुरक्षा कवच

ईरान से तनाव के बीच इजरायल ने अपने ऊपर होने वाले किसी भी संभावित हमले से बचने के लिए एक उन्नत आयरन डॉम वायु रक्षक तंत्र के परीक्षण की सीरीज को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है जिससे देश के एयर डिफेंस को मजबूती मिलेगी।
नई दिल्ली: ईरान से तनाव के बीच इजरायल ने अपने ऊपर होने वाले किसी भी संभावित हमले से बचने के लिए एक उन्नत आयरन डॉम वायु रक्षक तंत्र के परीक्षण की सीरीज को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है जिससे देश के एयर डिफेंस को मजबूती मिलेगी।सरकार ने यह जानकारी दी। बता दें कि इजराइल के दो एफ-35 लड़ाकू विमान ने शुक्रवार को इराक-सीरिया सीमा पर मौजूद हशेद अल-शाबी पैरामिलिट्री फोर्स के ठिकाने पर बमबारी कर दी, जिसमें आठ लोग मारे गए।हशेद अल-शाबी ईरान का समर्थक गुट है। इजराइल के इस ताजा हमले को ईरान के साथ उसकी पुरानी दुश्मनी को जोड़ कर देखा जा रहा है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार इजरायल के ऐसे परीक्षण को लेकर रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को ट्विटर पर कहा कि उसने आयरन डॉम तंत्र के उन्नत वर्जन का एक जटिल परीक्षण अभियान पूरा कर लिया है।

कंपनी राफेल एडवांस्ड डिफेंस सिस्टम लिमिटेड कंपनी ने किए परीक्षण

ये परीक्षण रक्षा मंत्रालय के एक विभाग इजरायल मिसाइल डिफेंस ऑर्गेनाइजेशन और एक सरकारी हथियार कंपनी राफेल एडवांस्ड डिफेंस सिस्टम लिमिटेड कंपनी ने किए हैं।इजरायल मिसाइल डिफेंस ऑर्गेनाइजेशन के प्रमुख मोसे पटेल ने कहा, “आयरन डोम के उन्नत और सुधारे गए वर्जन के परीक्षण किए गए।” पटेल ने कहा कि उन्नत तंत्र के सेना के सुपुर्द करते ही वायुसेना क्षेत्र में संभावित खतरों से बेहतर तरीके से सामना करने में सक्षम होगी।राफेल के कार्यकारी उपाध्यक्ष और एयर एंड मिसाइल डिफेंस सिस्टम के प्रमुख पिनी युंगमैन ने कहा, “सिस्टम ने परीक्षण के दौरान सभी खतरों को रोक दिया।”रक्षा मंत्रालय ने कहा कि परीक्षण के पूरे होते ही वर्तमान और भविष्य के क्षेत्रीय खतरों से बचाने में इजरायल ने अपनी क्षमता को महत्वपूर्ण स्तर पर बढ़ा लिया है।