मुश्किलों का आना Part of Life है और उनमें से हँस कर बाहर आना Art of Life है

दुनिया की सबसे दुर्लभ जोड़ी होती है,“खुशी” और “आँसू” की,दोनों एक साथ मिलना मुश्किल है,लेकिन जब दोनों साथ होते है,तो वह पल सबसे खूबसूरत होता है!बीते समय में हमने भविष्य की चिंता की,आज भी हम भविष्य के लिए सोच रहे है,और शायद कल भी यही करेंगे,फिर हम वर्तमान का आनंद कब लेंगे…दो चीज याद रखो..
अभिमान व स्वाभिमान!अभिमान कभी किसी को आगे बढ़ने नहीं देता और,स्वाभिमान कभी किसी को निचे गिरने नहीं देता..अभिमान को आने न दे और,स्वाभिमान को खोने नहीं दे…जब पति ने अपना पसीना पत्नी केदुपट्टे से पोछना चाहा तोपत्नी बोली:“दुपट्टा गन्दा न करो”जब पति ने अपना पसीना माँ केदुपट्टे से पोछना चाहातो माँ बोली,“ये गन्दा है रुको साफ़ करके देती हूँ”इंसान को कठिनाईयों की आवश्यकता होती है, क्योंकिसफलता का आनंद उठाने के लिए ये जरुरी हैकिसी भी मनुष्य की वर्तमान स्थिति देखकर,उसके भविष्य का उपहास मत उड़ाए क्योंकिकाल में इतनी शक्ति है की वो एक साधारण से,कोयले को भी धीरे-धीरे हिरे में बदल देता है…