मुस्लिम महिलाएं क्यों पहनती हैं बुर्खा, सच्चाई जानकर होश उड़ जाएंगे

जैसा कि आप सभी जानते हैं जितने भी धर्म है सभी धर्मों में वेशभूषा खानपान के साथ रहना सहना भी अलग अलग है| सभी अपने धर्म का पालन करता है और अपने धर्म को मानता है, लेकिन हम आपको इस्लाम धर्म से जुड़ी कुछ जानकारी बताने जा रहे हैं जैसा कि आप सभी जानते हैं मुस्लिम धर्म की महिलाए बुर्का पहनती है, क्या आपने कभी नहीं सोचा कि मुस्लिम महिलाएं बुर्का पहनती है इस के पिछ क्या अवधारणा है, तो चलिए फिर जान लेते हैं मुस्लिम महिलाएं आखिर बुर्का क्यों पहनती हैं|
जिस तरह से सभी धर्मों का अपना एक धार्मिक ग्रंथ होता है ठीक उसी प्रकार इस्लाम धर्म का भी सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक ग्रंथ कुरान है, कुरान ग्रंथ के अनुसार इस्लाम धर्म के समस्त रीति रिवाज इस किताब कुरान पर आधारित हैं, क्योंकि यह कुरान इस्लाम धर्म के लोगों को रहन-सहन वेशभूषा और खान पान के बारे में संपूर्ण जानकारी नियमों के अनुसार बताई गई है, इस्लाम ग्रंथ पुस्तक में बताया गया है कि मुस्लिम महिलाओं और पुरुषों को बिना लिवाज के नहीं रहना चाहिए, कुरान के अनुसार मुस्लिम महिलाओं को बुरखे में रहने की विशेष रुप से इजाजत दी गई है और इन कपड़ों में उनकी आंखें चेहरे और उनके हाथ पैर ही अनजान व्यक्ति को दिखाई देते हैं|मुस्लिम महिलाएं इस लिवाज में अपने शरीर को ढक सकते हैं और आज भी कुछ देश ऐसे हैं जो महिलाओं को बुरखे में रहने के लिए विशेष रूप से नियम बनाए हुए हैं और आजकल बुर्का पहनने का स्टाइल भी काफी चल चुका है|