मौसम विभाग ने दी चेतावनी! अगले 24 घंटे तक.

बर्फबारी की वजह से पहाड़ों पर रह रहे लोगों की भागती सी जिंदगी में रूकावटें आ गई है। गिरते तापमान की वजह दिल्ली-एनसीआर समेत पंजाब से लेकर मेघालय तक मैदानी इलाकों में घने कोहरे ने लोगों की मुश्किलों को बहुत हद तक बढ़ा दिया है।

fog

 पूरे देश में कंपा देने वाली ठंड पड़ रही है। ऐसे में लगातार बर्फबारी की वजह से पहाड़ों पर रह रहे लोगों की भागती सी जिंदगी में रूकावटें आ गई है। गिरते तापमान की वजह दिल्ली-एनसीआर समेत पंजाब से लेकर मेघालय तक मैदानी इलाकों में घने कोहरे ने लोगों की मुश्किलों को बहुत हद तक बढ़ा दिया है। जिसके चलते मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार और उत्तरी राजस्थान के कुछ हिस्सों में भीषण सर्दी होने की संभावना जताई है। हालाकिं सोमवार से ठंड से थोड़ी राहत मिलनी शुरू होगी। वहीं दिन के तापमान में बढ़ोत्तरी होगी।

तापमान में भारी गिरावट

बर्फीली हवाओं और ठंड से लोगों का हाल-बेहाल हो गया। 20 साल बाद इस कड़ाके की ठंड से लोग बुरी तरह से झुलस गए हैं। राजस्थान के कई हिस्सों में रात में एकदम से तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। यहां पिछले शनिवार को पिलानी में 1.4 डिग्री सेल्सियस न्यनूतम तापमान के साथ सबसे सर्द रहा।

WINTER

ऐसे में मौसम विभाग के अनुसार, इसी तरह चुरू में न्यूनतम तापमान 1.9 डिग्री सेल्सियस रहा। साथ ही गंगानगर में यह 2.5, जैसलमेर में 6.1 , बीकानेर में 6.3 और अलवर में 7.4 डिग्री सेल्सियस रहा। राज्य के अनेक हिस्सों में रविवार सुबह घने कोहरे की चादर सी छाई रही।

इन दिनों राजधानी दिल्ली में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। गिरते तापमान और कोहरे ने लोगों का जीना दुस्वार कर दिया है। दिल्ली में घने कोहरे के कारण विजिबिलिटी भी कम हो गई है। वहीं रविवार को दिल्ली का न्यूनतम तापमान गिरकर 5.7 डिग्री सेल्सियस पर आ गया, लेकिन हवा के रुख में बदलाव के कारण अगले दो दिनों में इसके बढ़ने की संभावना जताई है।

winter

साथ ही उत्तर भारत के पहाड़ों पर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से 22 से 25 जनवरी के बीच भारी बर्फबारी होने की संभावना है। ऐसे में मैदानी इलाकों के कुछ स्थानों पर बारिश होने की संभावना है। वहीं शुक्रवार को चोटियों पर हल्का हिमपात हुआ था, इससे शनिवार को मैदानी इलाकों में कम धुंध पड़ी।

जानकारी देते हुए मौसम विभाग के निदेशक डॉ. मनमोहन सिंह का कहना है कि प्रदेश के सात जिलों सिरमौर, सोलन, ऊना, हमीरपुर, बिलासपुर, मंडी व कांगड़ा में धुंध सुबह दो-तीन घंटे रहने के बाद छंट जा रही है। कुछ स्थानों पर सुबह करीब 10 बजे सूरज की किरणें धरती पर पड़ रही हैं।