ये कैसी हैवानियत…पति के तीन तलाक देते ही महिला पर कूद पड़े ससुर-जेठ…फिर….

राजस्थान के अलवर जिले में एक महिला से रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. महिला से पहले उसके पति ने शराब पीकर मारपीट की. फिर तीन तलाक बोल दिया. इसके बाद शराब के नशे में महिला के ससुर और जेठ ने रातभर महिला से दुष्कर्म किया.

पीड़ित महिला ने तीन तलाक के बाद गैंगरेप का मामला भिवाड़ी के महिला थाने में दर्ज कराया है. पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करा कर मामले की जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर धारा 498ए, 323, 376 डी सहित 3, 4 मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) एक्ट- 2019 में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. 

अलवर जिले में ट्रिपल तलाक के बाद गैंगरेप का पहला प्रकरण है. जो नए कानून के तहत दर्ज हुआ है. 25 वर्षीय पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी वर्ष 2015 में भिवाड़ी के चौपानकी थाना इलाके के एक गांव में हुई थी. 

पिता ने मुस्लिम रीति-रिवाज से शादी कर अपनी क्षमता के हिसाब से दहेज भी दिया था, लेकिन पति, देवर व ससुर ने और दहेज की मांग करते हुए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. इस दरम्यान उसने एक बेटी को भी जन्म दिया. 

दहेज की मांग को लेकर आरोपियों ने पीड़िता को कमरे में बंधक बना कर प्रताड़ित किया. मारपीट की. शाम को उसका पति कमरे में आया और तीन बार बोलकर तलाक देकर चला गया.

तलाक के बाद उसी रात करीब 11-12 बजे ससुर जेठ के साथ कमरे में घुस आया. उसने पीड़िता से कहा कि तुझे मेरे बेटे ने तलाक दे दिया है, इसलिए अब तू मेरी बहु नहीं है. ससुर के साथ आए व्यक्ति ने उसकी कनपटी पर देसी कट्टा लगा दिया. इसके बाद दोनों ने जबरन दुष्कर्म किया. 

दोनों ने कहा कि किसी को बताया तो जिंदा नहीं रहेगी. अगली सुबह वह मौका पाकर कमरे से बाहर आ गई. पिता को फोन कर आपबीती बताई. इसके बाद पिता की मदद से महिला पुलिस थाने पहुंच कर आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई.

पीड़िता के पिता ने आरोप लगाया है उसकी बेटी उनके कब्जे से छूटकर टपूकड़ा पहुंची थी. वहां से वह अपने भतीजे के साथ अपनी बेटी को लेकर उसके ससुराल पहुंचा. तो उन तीनों को बंधक बनाकर मारपीट की गई. फिर इन्होंने 100 नंबर पर फोन लगाकर पुलिस को बुलाया तब जाकर ये मुक्त हुए.