रोकना चाहते हैं 3 महीने के लिए लोन की ईएमआई तो बैंक को जानकारी देना है जरूरी, वरना हो सकता है घाटा..

भारत सरकार ने देशभर में लॉक डाउन कर दिया है जिसके चलते कई काम रुक गए हैं। ऐसे में सभी दफ्तर बंद है बैंक भी बंद ही है। लोगों का घर से आवागमन पूरी तरह बंद हो चुका है। ऐसे में हाल ही में एलआईसी ने एक पहल करके अपने प्रीमियम भुगतान करने वाले व्यक्तियों के लिए जो बैंक तक नहीं आ सकती हैं। ऑफिस उनके लिए 15 अप्रैल तक की रियायत दी थी। ऐसे में अब बैंक ने भी इस प्रकार की एक घोषणा की है।
आपको बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक ने सभी ग्रामीण बैंक को, बैंक को, नॉन बैंकिंग, फाइनेंस कंपनियों को 3 महीने के लिए ईएमआई रोकने का विकल्प दे दिया है। इससे नौकरी पैसे वाले व्यक्तियों को कैप चलाने वाले या फिर अन्य छोटे उद्योगों में लगे लोगों को काफी आराम पहुंचेगा। इसका सीधा फायदा और लोगों को पहुंचेगा, जिनकी कमाई लॉक डाउन के चलते पूरी तरह बंद है।3 महीने की यह एमआई अपने आप होल्ड नहीं की जा सकती इसके लिए आपको समय पर पेमेंट ना होने पर आप डिफॉल्टर भी चला सकते हैं। ऐसे में आपको अपने बैंक को अपनी ईएमआई होल्ड पर करने के लिए जानकारी देनी होगी।Reserve Bank की ओर से सभी तरह के टर्म लोन पर इस तरह की रियायत दी गई है। टर्म लोन का मतलब यह होता है कि चुकाए जाने वाला लोन। ऐसे लोन में ऑटो लोन पर्सनल लोन होम लोन सम्मिलित होते हैं।