रोटी खाने के बाद इसको खा लो, कमजोर नजर, खून की कमी और खराब पाचन से मिल जायेगा छुटकारा

बात करने वाले हैं मिश्री के बारे के औषधीय फायदों के बारे में, मिश्री को अंग्रेजी में रॉक शुगर भी कहते हैं, इसका प्रयोग खाने वाली चीजों को मीठा करने और अन्य औषधीय रूपों में किया जाता है। मिश्री गन्ने के रस और ताड़ के पेड़ के रस से तैयार की जाती है, ये कई पोषक तत्वों से भरपूर होती है, मिश्री विटामिन, खनिजों और एमिनो एसिड से भरपूर होती है, विटामिन बी 12 भी इसमें काफी अच्छी मात्रा में होता है, तो चलिए जान लेते हैं इसके फायदे –

1. मिश्री का सेवन सौंफ के साथ करने से डाइजेस्टिव सिस्टम बेहतर होता है । इसमें डाइजेस्टिव गुण मौजूद होते हैं, जिससे खाना जल्दी और आसानी से डाइजेस्ट हो जाता है. इसलिए खाना खाने के बाद मिश्री का सेवन जरूर करें ।

2. मुंह का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ मिश्री के सेवन से शरीर को एनर्जी भी मिलती है । सौंफ के साथ मिश्री का सेवन करने से मूड भी अच्छा रहता है ।

3. कई लोगों को नाक से खून आने की समस्या होती है । मिश्री से तुंरत ही नाक से खून आना बंद हो जाता है । हालांकि, यह समस्या गर्मी के मौसम में होती है ।

4. मिश्री के सेवन से शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ती है। इससे एनीमिया यानी की खून की कमी दूर होती है। भोजन करने के बाद मिश्री का सेवन करने से रक्त का परिसंचरण बेहतर होता है और खून की कमी दूर हो जाती हैं।

5. भोजन करने के बाद मिश्री और सौंफ का सेवन करने से मुंह से बदबू नहीं आती है।

अगर गले में खराश या फांसी की समस्या है तो मिश्री की डली को मुंह में रखकर चूसने से बहुत जल्दी राहत मिलती है।