लक्ष्मीपति बालाजी के जीवन के ये 4 राज बहुत कम लोगों को हैं मालूम, जानकर आपको हैरानी होगी

लक्ष्मीपति बालाजी भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज हैं. लक्ष्मीपति बालाजी ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के शुरुआती दिनों में सभी को काफी प्रवभावित किया. हालांकि लक्ष्मीपति बालाजी अपनी लय को ज्यादा समय तक बरक़रार नहीं रख पाए और टीम से बाहर हो गये.

लक्ष्मीपति बालाजी ने भारत की तरफ से 8 टेस्ट मैचों में 37 की औसत से 27 विकेट जबकि 30 वनडे मैचो में लगभग 40 की औसत से 34 विकेट चटकाए. लक्ष्मीपति बालाजी के नाम 5 टी 20 मैचों में 10 विकेट दर्ज हैं. लक्ष्मीपति बालाजी का जीवन सफर बेहद ही शानदार रहा है. आज के इस लेख में हम आपको इनके जीवन से जुड़े कुछ राज बताने जा रहे हैं. आइये जानते हैं-

1- लक्ष्मीपति बालाजी का जन्म 27 सितम्बर 1981 को तमिलनाडु के कांचीपुरम जिले के उठुकाडू गाँव में हुआ था. बालाजी ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत भी इसी राज्य से खेलते हुए की थी.

2- भारत और पाकिस्तान के विरुद्ध 2003-04 में खेली गयी वनडे सीरीज में बालाजी ने 24 मार्च को खेले गये एक मैच में शोएब अख्तर की गेंद पर एक गगनचुंबी छक्का लगाया था. इस मैच के बाद आयोजित टी पार्टी में पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति ने बालाजी की प्रशंसा करते हुए कहा था कि उन्होंने पाकिस्तान से मैच छीन लिया.

3- इस सीरीज के दौरान बालाजी इतने फैमस हुए कि उस वक्त कई पाकिस्तानी लड़कियां मैच के दौरान अपने हाथों में ‘Will you marry me’ (क्या तुम मुझसे शादी करोगे) लिखकर बालाजी को प्रपोज करती थीं.

4- भारतीय टीम के इस दिग्गज खिलाड़ी ने बेहद ही सुंदर प्रिय थालूर से 2013 में विवाह किया. आपको बता दें प्रिया एक मॉडल हैं. इन दोनों की पहली मुलाकात 2009 में हुई थी.