लड़का रेप की कोशिश कर रहा था, बचने के लिए लड़की ने चाकू घोंपकर मार दिया!

पुलिस ने शुरुआती जांच में पाया कि मामला ‘सेल्फ डिफेंस’ का है. प्रतीकात्मक तस्वीर.

तमिलनाडु का थिरूवल्लूर ज़िला. यहां के एक गांव में 2 जनवरी की रात 24 साल के एक लड़के की हत्या हो गई. मर्डर का आरोप 19 बरस की एक लड़की पर लगा है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, लड़की ने खुद की सुरक्षा यानी सेल्फ डिफेंस में ऐसा किया. रिपोर्ट्स ये हैं कि लड़का चाकू दिखाकर लड़की को डराकर उसका रेप करने की कोशिश कर रहा था. इससे बचने के लिए ही लड़की ने उसकी हत्या की.

‘सेल्फ डिफेंस’ वाला ये मामला क्या है

‘TOI’ की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस के सूत्रों ने लड़की की शिकायत के बारे में डिटेल में बताया. 2 जनवरी की शाम लड़की गांव में झाड़ियों वाले इलाके में शौच के लिए गई थी. उसी गांव का एक लड़का उसका पीछा कर रहा था, इस बात पर लड़की का ध्यान नहीं गया. बाद में लड़की ने देखा कि लड़के के हाथ में बीयर बॉटल है और वो उसकी तरफ आ रहा है. वो वहां से भाग पाती उसके पहले ही लड़का उस तक पहुंचा और गर्दन पर चाकू रख दिया और रेप करने की धमकी दी. लड़का ज़बरन लड़की के कपडे़ उतारने लगा. लड़की मना करती रही. फिर उसे महसूस हुआ कि लड़का शराब के नशे में था. लड़की ने लड़के को धक्का दिया और वहां से भागने लगी. लड़का भी उसके पीछे भागा, इसी दौरान चाकू नीचे गिर गया. लड़की ने चाकू उठाया और कई बार लड़के की गर्दन पर वार किया. तब तक किया, जब तक उसने होश नहीं खो दिए.

लड़के को वहीं छोड़कर लड़की खुद पुलिस स्टेशन पहुंची. रात के करीब नौ बजे. और उसने सारी घटना पुलिस को बताई. पुलिसकर्मी तुरंत घटनास्थल पहुंचे. वहां से उन्होंने लड़के के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. मर्डर का केस दर्ज कर लिया गया है, लेकिन अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. DSP कल्पना दत्त ने बताया कि कानूनी राय मांगी जा रही है. और हो सकता है कि लड़की की गिरफ्तारी न की जाए.

DSP ने बताया कि लड़की दसवीं के आगे नहीं पढ़ी है. और जो लड़का था, वो उसकी आंटी का बेटा था. शादी हो चुकी थी, दो बच्चे भी थे, लेकिन कुछ महीने पहले पत्नी से अलग हो गया था. पुलिस के मुताबिक, लड़का बेरोज़गार था, शराब की लत थी, और उसके खिलाफ कुछ चोरी के मामले भी दर्ज थे. वो हमेशा आसान शिकार की खोज में चाकू अपने साथ लेकर चलता था. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अभी तक की जांच में ये मामला केवल सेल्फ डिफेंस का लग रहा है और दूसरा कोई मकसद नज़र नहीं आ रहा है. हालांकि पुलिस का ये भी कहना है कि वो मामले की जांच करके फाइनल रिपोर्ट कोर्ट में पेश करेंगे, उसके बाद फैसला होगा कि मामले में क्या कार्रवाई की जाए.