शाहिद अफरीदी के फिर बिगड़े बोल, कहा- ‘जिस अभिनंदन को पाकिस्तान ने हवा से नीचे गिराया…’

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) विवादित बयान देने से बाज नहीं आ रहे हैं. मंगलवार को शाहिद अफरीदी ने एक बार फिर भारत के खिलाफ आग उगली है. अफरीदी ने कहा कि पाकिस्तान की फौज ने अभिनंदन को हवा से नीचे गिरा दिया लेकिन इसके बावजूद भारत ने उसे हीरो बना दिया. यही नहीं अफरीदी ने कश्मीर मसले पर एक बार फिर मुंह खोला है और भारत पर उन्होंने धर्म की राजनीति करने का गंभीर आरोप तक मढ़ दिया.शाहिद अफरीदी के बिगड़े बोल: शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने एक टीवी चैनल पर लाइव बातचीत के दौरान कहा, ‘पाकिस्तान की फौज ने हमेशा सकारात्मक बात की है, इससे बड़ा उदाहरण क्या हो सकता है. जो भाई हमारे उड़ते हुए आए थे अभिनंदन, हमने उन्हें चाय पिलाकर इज्जत से वापस भिजवा दिया. हिंदुस्तान ने उसको भी वहां हीरो बना दिया, जिसको हमने अपने यहां गिराकर वापस भेजा.’ अफरीदी ने आगे कहा, ‘इससे ज्यादा हम आप लोगों के लिए क्या कर सकते हैं. मेरा मतलब है कि भारत को भी एक-दो कदम आगे बढ़ाने चाहिए. आप भी इंसान हो उसी के आधार पर काम करें.’‘कश्मीर में हिंदुओं पर जुल्म होता तो भी आवाज उठाता: ‘शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने कश्मीर मुद्दे पर भी एक बार फिर अपनी बात सामने रखी. अफरीदी ने कहा, ‘कश्मीर में हिंदू लोग होते और उनपर जुल्म होता तो मैं तब भी बात करता. बात मजहब की नहीं है, बात इंसानियत की है. पाकिस्तान ने हमेशा भारत को सकरात्मक संकेत दिए हैं हमेशा. हमने रिश्तों को बेहतर करने की कोशिश की है. नेता हमेशा रिश्तों और कौमों को जोड़ने की बात करते हैं. राजनीति में कभी मजहब को बीच में नहीं लाना चाहिए.’ अफरीदी ने आगे कहा, ‘मैं पूरे हिंदुस्तान की कभी बात नहीं करता. मुझे हिंदुस्तान में बहुत प्यार मिला है. इतनी इज्जत मिली है. मेरे मुल्क वाले भी मुझसे शिकायत करते हैं कि आप भारत का ही नाम लेते हो.’‘युवराज और हरभजन मजबूर’: हाल ही में अफरीदी ने भारत के पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित बयान दिये थे जिसके बाद युवराज सिंह और हरभजन सिंह ने इस पाकिस्तानी क्रिकेटर से सभी नाते तोड़ने की बात कही थी. अफरीदी ने इस मुद्दे पर कहा कि युवराज और हरभजन दोनों मजबूर हैं. अफरीदी ने कहा, ‘ मैं युवराज और हरभजन का शुक्रगुजार रहूंगा, जिन्होंने मेरी फाउंडेशन का समर्थन किया. असल वजह ये है कि युवराज और हरभजन मजबूर हैं. वो रहते ही भारत में हैं. उन्हें भी अच्छी तरह पता है कि जुल्म कर रहे हैं वो लोग. बस वो मजबूर हैं और मैं कुछ नहीं कहूंगा.’