श्रीलंका है बेमिसाल देश, भारत के साथ ये चीजें दिखाती हैं सही अंतर

श्रीलंका भारत का पड़ोसी देश है और एक बेमिसाल देश है। यहां की संस्कृति धार्मिक है और यहां 70% लोग बौद्ध धर्म के अनुयायी हैं। श्रीलंका 1948 में अंग्रेजों से स्वतंत्र हुआ था। तब से लेकर आज तक श्रीलंका ने आश्चर्यजनक प्रगति दिखाई है। इस देश के लोग शिक्षित व समझदार हैं। श्रीलंका व भारत का नाता पौराणिक कथाओं में भी वर्णित है। आज के समय श्रीलंका अहम मुद्दों पर कई देशों से आगे निकल गया है। आज हम कुछ मुख्य चीज़ के साथ भारत और श्रीलंका के बीच अंतर बताने जा रहे हैं। चलिए देखते हैं –

1. पेट्रोल

पेट्रोल की जरूरत हर देश की बन चुकी है। आधुनिक समय में पेट्रोल अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बन चुक है। एक लीटर पेट्रोल की बात की जाए तो भारत में यह 75-80 रूपए के आसपास है, वहीं श्रीलंका में यह 40-45 रूपए प्रति लीटर है।

2. सैन्य क्षमता

सैन्य क्षमता एक देश की ताकत होती है। भारत के पास लगभग 13.25 लाख सक्रिय सैनिक हैं वहीं श्रीलंका के पास लगभग 3.46 लाख सैनिक है।

3. प्रति व्यक्ति आय

प्रति व्यक्ति आय के मामले में श्रीलंका भारत से आगे है, जिसका सबसे बड़ा कारण जनसंख्या है। भारत की जनसंख्या बहुत अधिक है इसलिए प्रति व्यक्ति आय लगभग 1.25 लाख रूपए है जबकी श्रीलंका की लगभग 3 लाख है।

4. साक्षरता दर

कोई भी देश जितना अधिक साक्षर होगा उतना ही तरक्की करेगा। भारत की साक्षरता दर लगभग 75 % है वहीं श्रीलंका की साक्षरता दर भारत से बेहतर है और वह 92 प्रतिशत है।

5. करंसी

करंसी की बात की जाए तो भारतीय रूपया, श्रीलंकन रूपया (LKR) से मजबूत है। 1 डाॅलर में जहां 70 भारतीय रूपये आते हैं वहीं 1 डाॅलर के मुकाबले 180 श्रीलंकन रूपये आते हैं। इसके अलावा भारतीय 1 रूपए में 2.52 श्रीलंकन रूपए आते हैं।