सनी लियोनी पर लगा चोरी का आरोप! विवाद बढ़ते ही मांगी माफी

सनी लियोनी पर लगा चोरी का आरोप! विवाद बढ़ते ही मांगी माफी

इंस्टाग्राम के इस पोस्ट के बाद अभिनेत्री विवादों में घिर गईं. हालांकि सनी ने तुरंत इसका जवाब देते हुए कहा…  

किसी चैरिटी के लिए एक कलाकृति की नकल करने के चलते बॉलीवुड अभिनेत्री सनी लियोनी (Sunny Leone) को सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. यह तस्वीर वास्तव में फ्रांसीसी चित्रकार मलिका फाव्रे द्वारा चित्रित है. डायटसब्या नामक एक अज्ञात इंस्टाग्राम अकांउट ने फार्वे और सनी की तस्वीर के स्नैपशॉट को साझा करते हुए इन दोनों में समानता होने की बात कही.

इसके कैप्शन में लिखा गया, “हम सभी चैरिटी का समर्थन करते हैं, लेकिन श्रेय दिए बिना किसी कलाकार की कलाकृति को चुराना और अपने किसी चैरिटी के लिए इसकी नीलामी करना महज गदंगी है. बाएं : मलिका फार्वे की वास्तविक चित्रकारी, दाएं सनी लियोनी (Sunny Leone) के द्वारा बनाई गई पेंटिंग.”

इंस्टाग्राम के इस पोस्ट के बाद अभिनेत्री विवादों में घिर गईं. हालांकि सनी ने तुरंत इसका जवाब देते हुए कहा कि उन्होंने किसी वास्तविक कलाकृति की नकल नहीं की है, बल्कि उन्हें एक तस्वीर दी गई थी जिससे उन्होंने अपनी यह पेंटिंग बनाई है.

सनी ने लिखा, “हैलो..आपको सही जानकारी देती हूं, मुझे इस कलाकृति की एक तस्वीर दी गई थी और तब मैंने इसे पेंट करने का निश्चय किया. मैंने कभी भी ऐसा दावा नहीं किया है कि इसे बनाने का विचार मेरा है. मैंने महज एक तस्वीर को देख, उसे पसंद कर इसे पेंट किया. मुझे इसे एक प्रशंसा के तौर पर लेना चाहिए, क्योंकि इसे चैरिटी के लिए कैंसर रोगियों के काम में लगाया जा रहा है.”

सनी ने आगे लिखा, “न इससे ज्यादा और न कम. जरूरतमंद बच्चों की मदद करते वक्त मैंने जिस संस्करण को चुना, उसे आपने पसंद नहीं किया, इसके लिए माफी चाहती हूं. इस चित्रकारी का तात्पर्य न आपसे है और न ही मुझसे, इसका तात्पर्य बस मदद करने की कोशिश के बारे में है. आपको शुभकामनाएं. बनाते रहिए.”

डायटसब्या ने इसके बाद सनी की तस्वीर पर फार्वे की प्रतिक्रिया को इंस्टाग्राम पर साझा किया.

इसमें लिखा गया, “सनी लियोनी (Sunny Leone) क्या एक छोटा सा श्रेय नहीं दिया जा सकता था..बौद्धिक संपदा भी एक चीज होती है आप जानती हैं? क्या होता अगर मैं यह नहीं चाहती कि मेरे किसी काम को आप द्वारा कॉपी किया जाए और फिर इसकी नीलामी की जाए? इसकी वजह वाकई सराहनीय है, लेकिन आपका व्यवहार उतना सराहनीय नहीं है.”