समाज को शर्मनाक करने वाली अनोखी प्रेम कहानी, पढ़ने के बाद शायद विश्वास नहीं कर पायेंगे

उन्नाव के सरकारी स्वास्थ्य केंद्र में रजनी अपने पति को लेकर आयी, तो डॉक्टरों ने उसे तुरंत देखना शुरू कर दिया। डॉक्टरों ने रजनी को बताया कि आपके पति की मौत हो चुकी है। इतना सुनते ही रजनी दहाड़ें मार -मार कर रोने लगी। उसके साथ उसके मामा का एक लड़का था। जो उसे सम्हालने की कोशिश कर रहा था। रजनी बहुत ही रोये जा रही थी। डॉक्टरों उसे समझाया तो वह शांत हुई। इसके बाद डॉक्टर ने रजनी से पोस्टमार्टम के लिए कहा तो उसने साफ़ मना कर दिया किन्तु डॉक्टरों को उसके पति की मौत पर कुछ शक हो रहा था। इस लिए डॉक्टर ने पुलिस को बुलाया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पोस्टमार्टम की जब रिपोर्ट आयी तो सभी के होश उड़ गए। आखिर क्या हुआ था रजनी के पति के साथ। आइये जानते है।

उन्नाव के पास ही उड़न खेड़ा नामक गाँव में हेमराज अपनी पत्नी रजनी के साथ रहता था। उसकी शादी को ५ साल हो गए थे किन्तु कोई संतान नहीं थी। इस लिए पति और पत्नी दोनों परेशान रहते थे। काफी इलाज भी कराया किन्तु कोई लाभ नहीं मिला। एक दिन कानपुर में रहने वाला हेमराज का दोस्त उससे मिलने आया। उसने जब हेमराज की पत्नी को देखा तो उसकी बांछे खिल गईं। वह भाभी -भाभी कहकर उससे घुलने मिलने। तीन दिन बाद हेमराज का दोस्त प्रेम सिंह कानपुर वापस चला गया। उसको अब रातों में नींद नहीं आ रही थी। उसने फोन कर सारी बात रजनी को बताई तो रजनी भी उसकी दीवानी हो चुकी थी।

अब जब भी उन्हें मौक़ा मिलता वो दोनों मिलते और हेमराज के न होने पर प्रेम उसके घर भी आ जाता था। एक दिन हेमराज अपनी बुआ के यहाँ जाने को निकला किन्तु काफी इंतज़ार क्र बाद भी कोई वाहन नहीं मिला तो वह घर वापस लौट पड़ा। घर में कदम रखते ही उसने जो दृश्य देखा उसके होश उड़ गए। प्रेम और रजनी एक ही विस्तर पर लेते हुए थे। हेमराज का खून खौल उठा उसने एक छडी उठाई और दोनों की पिटाई करने लगा। इतने में प्रेम तो भाग गया किन्तु रजनी को काफी मार खानी पड़ी। रजनी ने हेमराज से माफी माँगी और भविष्य में ऐसा न करने की कसम भी खाई। तीन दिन तक सब कुछ सही रहा किन्तु चौथे दिन रजनी को प्रेम की याद सताने लगी। रजनी ने चुपके से प्रेम को फोन किया और अपना हाल बताया और मिलने को कहा। प्रेम ने साफ़मना कर दिया। उसने कहा तुम्हारे पति के रहते हम एक दूसरे के नहीं हो सकते।

रजनी ने उसी रात एक प्लान बनाया और रात को सोते समय हेमराज को गला दबाकर मार दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी हेमराज की मौत का कारण यही निकला। पुलिस ने रजनी को गिरफ्तार कर लिया और उसने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है। प्रेम फरार है और पुलिस उसकी तलास कर रही है।