सरकार ने फास्टैग को लेकर दी राहत, 1 दिसंबर से लागू नहीं होगा ये नियम

केंद्र सरकार की ओर से फास्टैग को लेकर राहत दी गई है। जिन गाड़ियों पर फास्टैग नहीं होगा उन्हें 1 दिसंबर से दोगुना शुल्क नहीं देना है।

भारत सरकार की ओर से फास्टैग नहीं लगवाने वाले वाहन चालकों को राहत दी है। जिन गाड़ियों पर फास्टैग नहीं है उन्हें 1 दिसंबर से दोगुना शुल्क नहीं देना होगा। फास्टैग लगवाने की डेडलाइन 30 नवंबर से बढ़ाकर 14 दिसंबर कर दी गई है। 14 दिसंबर तक फास्टैग नहीं लगवाने वाले वाहन चालकों को 15 दिसंबर से दोगुना टोल टैक्स देना होगा।

राष्ट्रीय राजमार्गों पर यातायात को सुगम बनाने के लिए केंद्र सरकार ने फास्टैग अनिवार्य कर दिया है। सड़क परिवहन विभाग की ओर से 30 नवंबर तक प्रत्येक चार पहिया वाहन के लिए फास्टैग अनिवार्य कर दिया था। फास्टटैग नहीं लगवाने पर 1 दिसंबर से दोगुना टोल टैक्स वसूले जाने का नियम तय किया था। लेकिन कई वाहनों पर अभी तक फास्टैग नहीं लग पाए हैं। जिसके कारण राष्ट्रीय राजमार्ग पर टोल वसूले जाने के दौरान जाम लगने का डर था।

ऐसे में भारत सरकार की ओर से डेडलाइन बढ़ा दी गई है। वाहन चालकों को राहत देते हुए 14 दिसंबर तक हर हाल में फास्टैग लगवाने के निर्देश दिए हैं। ऐसा नहीं करने पर राष्ट्रीय राजमार्गों के टोल पर 15 दिसंबर से दोगुना टोल वसूला जाएगा।

ANI@ANI

Government of India: It has been decided that charging of double User Fee from vehicles which enter FASTag lane without FASTag will start from 15th December instead of 1st December.4858:33 PM – Nov 29, 2019

राष्ट्रीय राजमार्गों पर हुआ ट्रायल

फास्टैग की तैयारियां जांचने के लिए शुक्रवार को राष्ट्रीय राजमार्गों के टोल पर ट्रायल हुआ। ट्रायल के दौरान लंबा जाम लग गया। क्योंकि बड़ी संख्या में वाहन चालकों ने फास्टैग नहीं लगवाए हैं। जयपुर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग के खेड़की दौला टोल पर दो किमी लंबा जाम लग गया। इसी तरह अन्य टोल पर भी जाम का सामना करना पड़ा। ऐसे में सरकार ने डेडलाइन बढ़ाने का फैसला किया है।