सलमान को इस एक्टर ने सुनाई खरी-खोटी, अपना IQ लेवल जानते हो तो ये काम क्यों करते हो

सलमान को इस एक्टर ने सुनाई खरी-खोटी, अपना IQ लेवल जानते हो तो ये काम क्यों करते हो

कमाल ने लिखा कि सलमान ने खुलासा किया है कि जब वह चौथी में थे उन्हें स्कूल से निकाला गया था. भाई अब आप अपना आईक्यू लेवल जानते हैं, फिर भी अपनी फिल्म की स्क्रीप्ट लिख रहे हैं. कम से कम अपने स्कूल के दिनों को याद करके इस तरह के एक्सपेरिमेंट न करें. दूसरों को स्क्रिप्ट लिखने दें. लव यू भाई. 

सलमान खान (Salman Khan) की फिल्म ‘दबंग-3’ बॉक्स ऑफिस पर छाई हुई है. CAA के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन के बावजूद यह फिल्म बढ़िया कलेक्शन बटोर रही है. उधर, बॉलीवुड के एक्टर और प्रोडयूसर कमाल आर खान ने एक फिर सलमान खान को फिल्म ‘दबंग-3’ के जरिए खरी-खोटी सुनाई है. इस पर जबरदस्त प्रतिक्रिया आ रही है. 

कमाल ने लिखा कि सलमान ने खुलासा किया है कि जब वह चौथी में थे उन्हें स्कूल से निकाला गया था. भाई अब आप अपना आईक्यू लेवल जानते हैं, फिर भी अपनी फिल्म की स्क्रिप्ट लिख रहे हैं. कम से कम अपने स्कूल के दिनों को याद करके इस तरह के एक्सपेरिमेंट न करें. दूसरों को स्क्रिप्ट लिखने दें. लव यू भाई. 

KRK@kamaalrkhan

Salman khan reveals that he was thrown out of school, when he was in 4th grade. Bhai now you know about your IQ and still you write scripts of your films. At least remember your school days and avoid such a disaster experiment bhai. Let others write scripts for you. Love u bhai.93510:15 AM – Dec 26, 2019

इसके बाद तो कमेंट्स की बाढ़ आ गई. एक यूजर ने कमेंट किया कमाल नंबर -1 और उसके नीचे कमाल की फिल्मों को मिली रेटिंग की तस्वीर लगा दी. इसमें कमाल की फिल्मों को 1 स्टार डेढ़ स्टार मिला हुआ है. 

एक ने लिखा कि भगवान ऐसा आईक्यू सबको दे. CAA के विरोध में प्रोटेस्ट के बावजूद फिल्म ने 4 दिन में 100 करोड़ से ज्यादा कमा लिए. यूपी के थियेटर भी जबकि बंद थे. एक ने लिखा ये आदमी बोलता बुरा है, लेकिन सही बोलता है. 

आपको बता दें कि इससे पहले भी कमाल ने ट्वीट कर फिल्म को बकवास करार दिया था. उन्होंने लिखा था कि यह फिल्म 90 के दशक में आती तो सुपरहिट होती, लेकिन आज के दर्शकों को यह पसंद नहीं आएगी. केआरके अनुसार- फिल्म ‘दबंग-3’ मरजावां की तरह ही निहायती बकवास फिल्म है. 30 प्रतिशत फिल्म स्लोमोशन में है. इसलिए भाईजान के रिक्शेवाले फैंस इस पर तालियां बजा सकेंगे. यह फिल्म आज के समय के हिसाब से नहीं है, अगर यह 90 के दशक में रिलीज हुई होती तो सुपरहिट होती.