सावधान! लगातार ईयरफोन का इस्तेमाल करना सेहत के लिए घातक, हो सकती हैं ये बीमारियां

आपने अपने आसपास ऐसे कई लोगों को देखा ही होगा, जो लगातार अपने कानों में ईयरफोन (Earphones)  लगाए रहते हैं. हो सकता है आप भी उन लोगों में शामिल हों, लेकिन क्या आप जानते हैं कि लगातार कानों में ईयरफोन लगाना सेहत (Health) के लिए घातक साबित हो सकता है. दरअसल, ईयरफोन या हेडफोन (Headphone) का ज्यादा देर तक इस्तेमाल करने से आपको कानों से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. एक अध्ययन के अनुसार, अगर कोई व्यक्ति रोजाना एक घंटे से ज्यादा समय तक 80 डेसीबेल्स से ज्यादा तेज आवाज में संगीत सुनता है तो उसकी सुनने की क्षमता पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है. इससे बहरेपन की नौबत तक आ सकती है.

अगर आप भी ईयरफोन या हेडफोन का लगातार इस्तेमाल करते हैं तो समय रहते सावधान हो जाइए, क्योंकि यह आपके कानों के साथ-साथ शरीर को भी नुकसान पहुंचा सकता है. चलिए जानते हैं लगातार ईयरफोन का इस्तेमाल करने से किस तरह की समस्याएं हो सकती हैं (Side Effects of Earphones).

लंबे समय तक ईयरफोन लगाकर गाना सुनने से आपको कान का इंफेक्शन हो सकता है. अगर आप किसी के साथ अपना ईयरफोन शेयर करते हैं तो उसे सेनिटाइजर से साफ जरूर करें. दरअसल, कान 65 डेसिबल तक की ध्वनि को सहन कर सकता है, लेकिन अगर 40 घंटे से ज्यादा देर तक ईयरफोन पर 90 डेसिबल की ध्वनि सुनी जाए तो कान की नसें पूरी तरह से डेड हो सकती हैं.

लगातार ईयरफोन या हेडफोन का इस्तेमाल करने से आपकी सुनने की क्षमता बुरी तरह से प्रभावित हो सकती है. तकरीबन हर ईयरफोन में हाई डेसीबल वेव्स होते हैं, जिसके चलते आप अपनी सुनने की क्षमता को खो सकते हैं. ईयरफोन के लगातार इस्तेमाल से सुनने की क्षमता 40-50 डेसीबल तक कम हो जाती है. इससे दूर की आवाज सुनने में परेशानी होने लगती है और बहरेपन की नौबत तक आ सकती है.

लगातार ईयरफोन लगाकर गाना सुनने से सुनने की क्षमता तो कम होने ही लगती है. इसके साथ ही दिल की बीमारियों, कैंसर, कान में छन-छन की आवाज होना, चक्कर आना, सनसनाहट,  कान दर्द जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं.

ईयरफोन से निकलने वाली विद्युत चुंबकीय तरंगे दिमाग के सेल्स को काफी क्षति पहुंचाती हैं. यह बाहरी भाग के कान के परदे को नुकसान पहुंचाने के साथ-साथ अंदरूनी हेयरसेल्स को भी तकलीफ पहुंचाता है़. इस समस्या को नजअंदाज करने से कानों में अनेक प्रकार की समस्याएं हो सकती हैं.

लगातार हेडफोन या ईयरफोन का इस्तेमाल करने से मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है. दरअसल, म्यूजिक की तेज वाइब्रेशन की वजह से दिमाग पर असर पड़ता है. इसके साथ ही कई बार दिमाग के साथ दो चीजों पर ध्यान देने की क्षमता में कमी देखी जाती है. इससे सिरदर्द और अनिद्रा की समस्या हो सकती है.

बहरहाल, ईयरफोन के इस्तेमाल से होनेवाले साइड इफेक्ट्स से बचने के लिए इसका ज्यादा इस्तेमाल करने से बचें. अच्छी क्वालिटी के ही ईयरफोन या हेडफोन इस्तेमाल करें. अगर आप घंटों तक ईयरफोन लगाकर काम करते हैं तो हर एक घंटे में कम से कम 5 मिनट का ब्रेक जरूर लें.

इस लेख में दी गई तमाम जानकारियों को केवल सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है. इसलिए किसी भी टिप्स या सुझाव को आजमाने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें.