सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त गणेश हिरवकर का आरोप, ‘आत्महत्या नहीं, उनकी हत्या हुई’

Sushant singhs friend ganesh hiwarkar claims, he was murdered ANN

मुम्बई : सुशांत सिंह राजपूत की हत्या किये जाने का सनसनीखेज दावा 12 साल तक उनके दोस्त रहे गणेश हिवरकर ने एबीपी न्यूज़ से किया है. कोरियोग्राफर और सुशांत के दोस्त गणेश ने 2007 में सूशांत को बॉलीवुड डांस सीखने में काफी मदद की थी और दोनों बहुत अच्छे दोस्त बन गये थे. गणेश 2019 तक सुशांत से टच में थे.

गणेश हिवरकर ने एबीपी न्यूज़ से खास बातचीत में इस हत्या की साजिश में सुशांत सिंह राजपूत का करीबी दोस्त होने का दावा करनेवाले निर्माता संदीप सिंह के भी शामिल होने का आरोप लगाया.

गणेश ने एबीपी न्यूज़ से कहा, “संदीप के साथ काम करनेवाले एक करीबी शख्स ने मुझे बताया है कि किस तरह से सुशांत की एक्स मैनेजर दिशा सालियान अपने साथ हो रहे गलत बर्ताव की बात सुशांत सिंह राजपूत को बताई थी, जिसे लेकर सुशांत जल्द ही मीडिया के सामने कोई बड़ा खुलासा करनेवाले थे. यही बात उन्होंने संदीप सिंह को बता दी थी और संदीप सिंह ने इसे लीक कर दी थी, जिसके चलते सु्शांत की हत्या कर दी गयी थी.”

गणेश आगे कहते हैं, “हत्या की एक रात पहले सुशांत के घर पर हुई एक पार्टी में बाहर से 5-6 लोग आये थे और उनके रहते ही सुशांत की हत्या हुई है. हत्या रात को या फिर सुबह हुई है, ये तो नहीं पता, लेकिन पार्टी में शामिल इन सभी लोगों के नाम मुझे पता हैं और मैं इन सभी नामों का खुलासा मैं सीबीआई के सामने करना चाहता हूं.”

गणेश ने कहा, 5-6 अगस्त की दरमियानी रात मेरे घर के बाहर 6-7 लोगों आकर यह कहते हुए जोर जोर से दरवाजा पीट रहे थे कि ‘तुझे टीवी पर आने का बड़ा शौक है न?” तकरीबन आधे घंटे तक उन्होंने मुझे धमकाया. ऐसे में मैंने ओशिवारा पुलिस स्टेशन को फोन लगाया तो मुझे पहले एफ आई आर लिखाने के लिए कहा गया और तीन बार फोन करने के बाद भी पुलिस मेरे घर पर नहीं आई.”

गणेश कहते हैं कि उन्हें मुम्बई पुलिस पर जरा भी भरोसा नहीं है और सीबीआई को ही सुशांत की हत्या के मामले की जांच करनी चाहिए.

गणेश ने एक बार फिर से दोहराया कि सुशांत डिप्रेशन का शिकार होकर आत्महत्या करनेवाला इंसान नहीं था. वे कहते हैं, “एक लड़की के चक्कर में जब मैं खुद डिप्रेशन का शिकार होकर आत्महत्या के बारे में सोच रहा था, तो उन्होंने मुझे डिप्रेशन से बाहर आने में मदद की थी और 6 महीने तक उन्होंने मेरा साथ दिया था. ऐसा व्यक्ति आत्महत्या नहीं कर सकता.”