स्वामी विवेकानंद जयंती पर पीएम मोदी पहुंचे बेलूर मठ, कुछ इस तरह याद किया गुजरा वक्त

कोलकाता: स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda) की जंयती पर बेलूर मठ पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा कि यहां आना मेरे लिए घर आने जैसा है. पीएम मोदी ने कहा, बेलूर मठ आना किसी तीर्थयात्रा से कम नहीं है.

बेलूर मठ में PM

PM in belur Math
युवा दिवस पर युवाओं को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा, ‘स्वामी विवेकानंद एक व्यक्ति नहीं एक जीवनशैली हैं.’

PM ने स्वामी विवेकानंद को नमन किया

PM remembers Vivekananda
पीएम ने स्वामी विवेकानंद जयंती के इस पवित्र अवसर और राष्ट्रीय युवा दिवस पर देशवासियों को शुभकामनाएं दीं.

पीएम ने युवाओं को संबोधित किया

PM Addressed youth
पीएम ने कहा पिछली बार जब यहां आया था तो गुरुजी, स्वामी आत्मआस्थानंद जी के आशीर्वचन लेकर गया था. आज वो शारीरिक रूप से हमारे बीच विद्यमान नहीं हैं. लेकिन उनका काम, उनका दिखाया मार्ग, रामकृष्ण मिशन के रूप में सदा हमारा मार्ग प्रशस्त करता रहेगा.

देशभर में मनाया जा रहा युवा दिवस

Yuva diwas 2020
बेलूर मठ में युवाओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, स्वामी विवेकानंद जी की वो बात हमें हमेशा याद रखनी होगी जब वो कहते थे कि ‘अगर मुझे सौ ऊर्जावान युवा मिल जाएं, तो मैं भारत को बदल दूंगा’ यानि परिवर्तन के लिए हमारी ऊर्जा, कुछ करने का जोश ही आवश्यक है.

पीएम मोदी ने युवाओं से कही ये बात

PM narendra modi addressed youth
उन्होंने कहा कि युवा जोश, युवा ऊर्जा ही 21वीं सदी के इस दशक में भारत को बदलने का आधार है. नए भारत का संकल्प, आपके द्वारा ही पूरा किया जाना है. ये युवा सोच ही है जो कहती है कि समस्याओं को टालो नहीं, उनसे टकराओ, उन्हें सुलझाओ.

CAA को लेकर बोले पीएम

PM Speaks on CAA
पीएम मोदी ने इस मौके पर नागरिकता संशोधन कानून (CAA)  को लेकर जारी विवाद का भी जिक्र किया. पीएम मोदी ने कहा कि सीएए किसी की नागरिकता छीन लेने का नहीं बल्कि नागरिकता देने का कानून है.

पीएम मोदी ने महात्मा गांधी को भी याद किया

PM modi remembers Mahatma Gandhi
पीएम मोदी ने कहा, ‘मारी सरकार ने वही किया है जो महात्मा गांधी कह कर गए.’  उन्होंने सवाल किया कि क्या पाकिस्तान से प्रताड़िता होकर आए शरणार्थियों को वापस भेज देना चाहिए.

पीएम ने कहा- CAA को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा

PM attacks opposition
पीएम मोदी ने कहा, ‘आज भी किसी भी धर्म का व्यक्ति, चाहे नास्तिक हो, जो भी भारत के संविधान को मानता है वो तय प्रक्रियाओं के तहत भारत की नागरिकता ले सकता है. ‘उन्होंने कहा, कुछ लोग राजनीतिक कारणों से सीएए को लेकर भ्रम फैला रहे हैं.