13 साल की बच्ची का अपहरण कर दरिंदों ने आठ दिनों तक किया गैंगरेप

उत्तर प्रदेश के मेनपुरी में एक 13 साल की बच्ची ने बताया कि दरिंदों ने उससे लगातार आठ दिनों तक गैंगरेप किया।

rape

उत्तर प्रदेश के मेनपुरी में एक 13 साल की बच्ची, जिसका 15 जनवरी को अपहरण किया गया था, ने बताया कि बदमाशों ने उसे दिल्ली में बंधक बनाया हुआ था। बच्ची ने बताया कि दरिंदों ने उससे लगातार आठ दिनों तक गैंगरेप किया। अपने माता-पिता की इकलौती बच्ची को परिवार ने बचा लिया है। गुरुवार को बच्ची अपने माता-पिता के साथ थाने पहुंची और मामले में तीन आरोपियों के खिलाफ शिकायत लिखवाई। आरोपियों के नाम आकाश, हरिओम और गुड्डू हैं।

एक आरोपी एटा तो बाकी दोनों मेनपुरी के रहने वाले हैं। लड़की के माता-पिता ने बताया कि पुलिस ने शिकायत लिखाए जाने के दिन ही एफआईआर दर्ज कर ली थी लेकिन मामले में आरोपियों पर सिर्फ अपहरण की धाराएं लगाई गईं हैं न कि गैंग रेप की। लड़की के एक रिश्तेदार ने बताया कि साफ जानकारी दी गई थी कि बच्ची के साथ गैंगरेप हुआ था। लेकिन फिर भी पुलिस ने बलात्कार की धाराएं आरोपियों पर नहीं लगाईं।

रिश्तेदार ने बताया कि बच्ची के अपहरण के लेकर शुरू में पुलिस को जानकारी नहीं दी गई थी। परिवार ने बदनामी के डर से ऐसा नहीं किया था। बच्ची के परिवार ने खुद से ही बच्ची की तलाश की थी। जब बच्ची को परिवार ने दिल्ली से छुड़ा लिया तो बच्ची ने बताया कि उसके साथ क्या हुआ है। जिसके बाद परिवार ने पुलिस में FIR दर्ज कराई।

थाने के इंसपेक्टर ने स्वीकार किया कि मामले में आरोपियों पर बलात्कार की धाराएं नहीं लगाई गई हैं। उन्होंने कहा कि बच्ची जब मजिस्ट्रेट के सामने बयान देगी उसके बाद ही धाराएं लगाई जाएंगी। अस्पताल में भर्ती बच्ची ने बताया कि जब वह सुबह घर से निकली थी तो आरोपियों ने गाड़ी में उसे उठा लिया। उन्होंने बच्ची के साथ आठ दिनों तक बलात्कार किया और किसी को ये बात न बताने की धमकी भी दी।