5 कारण हल्दी आपके दैनिक जीवन का एक हिस्सा होना चाहिए

लगभग हर भारतीय भोजन में हल्दी एक अनिवार्य घटक है। शुरुआती अध्ययनों (वेदों के समय से) के अनुसार, हल्दी को इसके अद्भुत औषधीय गुणों के कारण सुपर-फूड माना जाता है। विज्ञान, आज, इस तथ्य को भी साबित कर दिया है कि हल्दी का दैनिक रूप से सेवन किसी भी भविष्य की बीमारियों को होने से रोकता है। यहाँ हल्दी के पाँच स्वास्थ्य लाभ दिए गए हैं।

 * वसा हानि को बढ़ावा देता है

 बहुत से लोगों को यह पता नहीं है, लेकिन हल्दी का मध्यम और लगातार सेवन हमारे शरीर में वसा की उचित कमी में मदद कर सकता है। हल्दी चयापचय, रक्त में शर्करा-स्तर आदि को नियंत्रित करने में मदद करती है, क्योंकि इसमें कैलोरी-जलने की दर अधिक होती है।

 * प्रतिरक्षा को बढ़ाता है

 हल्दी को हमारे शरीर में प्रतिरक्षा को बनाए रखने, सुरक्षा और बढ़ाने के लिए सबसे अच्छे खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है। यह शरीर को एंटीऑक्सिडेंट और विरोधी भड़काऊ गुण प्रदान करता है, और इसमें उत्कृष्ट एंटीवायरल, जीवाणुरोधी और रोगाणुरोधी यौगिक होते हैं। ये यौगिक सभी रोग पैदा करने वाले तत्वों को खाड़ी में रखने में मदद करते हैं।

 * हीलिंग गुण चंगा

 हल्दी उत्कृष्ट चिकित्सा गुणों के अधिकारी के लिए जानी जाती है। यह हमें खांसी और सर्दी जैसी सामान्य बीमारियों से ठीक करने में मदद करता है। चूंकि यह प्रतिरक्षा को बचाता है और बनाए रखता है, इसलिए यह तेज गति से बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। इसके अलावा, हल्दी में एक जादुई गुण होता है जो तुरंत रक्तस्राव को रोकने में मदद करता है। एक ताजा चाकू-कट या पेपर-कट पर कुछ हल्दी पाउडर दबाएं, रक्तस्राव तुरंत बंद हो जाएगा। हल्दी के क्लींजिंग गुण बाहर के कीटाणुओं और जीवाणुओं से खुले घाव की रक्षा करते हैं।

 * लिवर को डिटॉक्सीफाई करता है

 हल्दी के जीवाणुरोधी और विरोधी भड़काऊ गुण, इसके साथ मिलकर फाइटो-रसायन (कर्क्यूमिन सहित), यह एक प्राकृतिक क्लीन्ज़र बनाता है। लिवर डिटॉक्सिफिकेशन के लिए ऐसे अच्छे प्राकृतिक क्लीन्ज़र की ज़रूरत होती है जो इसे बनाए रखने के साथ-साथ तत्वों से होने वाली बीमारी से भी बचाता है।

 * एक अच्छी रात की नींद के लिए एड्स

 नींद पर इस मलाईदार, दूधिया पीले रंग की औषधि का प्रभाव जादुई है! सोने से पहले हल्दी वाला दूध पीना अनिद्रा के लिए एक उपाय है और मस्तिष्क में सेरोटोनिन के स्तर को बढ़ाता है, जो विश्राम, शांति और नींद को ट्रिगर करता है। इस जादुई औषधि को हमारे देश में सदियों से एक अच्छी नींद सहायता माना जाता है। अब आप जानते हैं कि हमारी दादी-नानी बचपन में सोने से पहले हमें हल्दी वाला दूध पीने के लिए क्यों मनाती हैं!